Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

भारत में कोरोना के 24 घंटों में तीस हजार से ज्‍यादा मामले, 98 लाख से पार पहुंचे कुल केस

नई दिल्‍ली। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की रफ्तार मंद पड़ गई है। बीते 24 घंटों में सिर्फ 30,005 नए मामले सामने आए हैं और 442 लोगों की मौत हुई है। भारत में एक्टिव केस लगातार घट रहे हैं। पिछले 23 घंटों में भी लगभग 3 हजार से ज्‍यादा एक्टिव केस कम हुए हैं। शुक्रवार को 33,494 लोगों ने इस जानलेवा वायरस को मात दी और ठीक हो गए। अब तक 93,24,328 लोग कोरोना वायरस की गिरफ्त से बाहर आ चुके हैं। हालांकि, 1,42,628 लोगों की कोविड-19 के कारण मौत भी हो चुकी है, लेकिन भारत में मृत्‍यु दर अन्‍य कई देशों में की तुलना में काफी कम है। भारत में अब तक 98,26,775 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इस बीच अच्‍छी खबर यह है कि भारत में भी जल्‍द कोरोना वैक्‍सीन आने की उम्‍मीद है, जिसके बाद हालात यकीनन सामान्‍य होते चले जाएंगे।

देश में नमूनों की जांच की संख्या 15 करोड़ के पार

कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए देश में नमूनों की जांच की संख्या 15 करोड़ को पार कर गई है। आखिरी के एक करोड़ से ज्‍यादा परीक्षण पिछले 10 दिनों के दौरान किए गए। ज्यादा जांच होने से संक्रमण की दर कम करने में मदद मिली है। सक्रिय मामलों की संख्या में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में लगातार 12 दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण के 40,000 से कम नए मामले सामने आ रहे हैं।

कोरोना टेस्ट किट के लिए सीएसआइआर-सीसीएमबी व अपोलो में करार

कोरोना टेस्‍ट में आने वाले दिनों और बढ़ोतरी की उम्‍मीद है। सीएसआइआर-सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्युलर बायोलॉजी (सीसीएमबी) तथा अपोलो हॉस्पिटल ने गुरुवार को संयुक्त रूप से कोरोना रैपिड टेस्ट किट के निर्माण और उसके व्यवसाय के लिए समझौता करने का एलान किया। इस आशय के एक संयुक्त बयान में कहा है कि सीसीएमबी तथा अपोलो हॉस्पिटल एंटरप्राइज कोरोना जांच के लिए डायरेक्ट एम्पलीफिकेशन रैपिड आरटी-पीसीआर (डीएआरआरटी-पीसीआर) के निर्माण और व्यवसाय के लिए सहयोग करेंगे। इस टेस्ट किट का विकास सीएसआइआर-सीसीएमबी ने किया है। कोरोना की तेजी से जांच के लिए सुरक्षित तथा किफायती यह किट देशभर में अपोलो हॉस्पिटल नेटवर्क के जरिये उपलब्ध होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News