Cover
ब्रेकिंग
नरोत्तम बोले- लव जिहाद कानून पर अपनी स्थिति स्पष्ट करे कांग्रेस, किसान आंदोलन पर भी साधा निशाना नेता प्रतिपक्ष को लेकर कमलनाथ वर्सेस दिग्विजय ! खुलकर सामने आई तकरार…पूरा विश्लेषण लालू यादव की जमानत पर सुनवाई टली, कस्टडी को सत्यापित करने के लिए मांगा समय अर्नब को अंतरिम बेल देने के कारणों को SC ने किया स्पष्ट, कहा- पुलिस FIR में लगाए गए आरोप नहीं हुए साबित आईआईटी और एनआईटी मातृभाषा में इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम चलाएंगे, IIT-BHU में हिंदी से होगी शुरुआत गुजरात: राजकोट के कोरोना अस्पताल में लगी भीषण आग, 5 मरीजों की मौत मुख्यमंत्री ने सिद्धू के साथ कयासबाजियों को किया खारिज, हरीश रावत के प्रयास से मिटी दूरियां डोनाल्ड ट्रंप ने मान ली अपनी हार, बोले- छोड़ दूंगा व्हाइट हाउस मतदाताओं से संपर्क स्थापित करें कार्यकर्ता: स्वतंत्र देव पाकिस्तान ने ठंडे बस्ते में डाले भारत के डोजियर, तमाम सुबूतों के बावजूद साजिशकर्ताओं पर नहीं कसा शिकंजा

चीन ने अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन और कमला हैरिस को दी बधाई, पहले किया था इनकार

बीजिंग। चीन ने आखिकार अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन(Joe Biden) और कमला हैरिस को चुनावों में जीत पर बधाई दी है। चीन ने करीब एक हफ्ते बाद अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में जीत पर बाइडन और कमला हैरिस को शुभकामनाएं दी हैं। चीन ने इसी हफ्ते अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में विजेता के रूप में जो बाइडन को बधाई देने से इनकार कर दिया था। चीन ने उस वक्त कहा था कि अमेरिका का चुनाव परिणाम देश के कानूनों और प्रक्रियाओं से निर्धारित होना चाहिए।

लेकिन अब चीन ने शुक्रवार को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जो बाइडन को जीत पर बधाई दी। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि हम अमेरिकी लोगों की पसंद का सम्मान करते हैं। हम श्री बाइडन और सुश्री हैरिस को बधाई देते हैं। उन्होंने आगे कहा कि हम समझते हैं कि अमेरिकी चुनाव के परिणाम अमेरिकी कानूनों और प्रक्रियाओं के अनुसार निर्धारित किए जाएंगे। ट्रंप ने हार मानने से इंकार करते हुए चीन को एक अजीब स्थिति में डाल दिया है, जिसमें चीन ने ट्रंप का विरोध करने के लिए कुछ भी किया। ट्रंप ने चुनावों के नतीजों के खिलाफ इसे कोर्ट में चुनौती दी है। ट्रंप 20 जनवरी तक अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय व्हाइट हाउस में बने रहेंगे

चीन और अमेरिका के बीच के संबंधों की बात करें तो यह दशकों से तकनीक और व्यापार से लेकर हांग कांग और कोरोनवायरस तक के विवादों में सबसे खराब स्थिति में हैं। ट्रंप प्रशासन ने चीन के खिलाफ कई कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। जिससे हालात और बिगड़े हैं।

बता दें कि अमेरिका के कई राज्यों में वोटों की गिनती अभी भी जारी है। इस बीच जो बाइडन ने एरिजोना राज्य में भी जीत हासिल कर यहां के 11 वोटों पर कब्जा जमाया है और अपने इलेक्टोरल कॉलेज मार्जिन को मजबूत किया है जबकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अभी तक राष्ट्रपति चुनावों में हार नहीं मानी है। एरिज़ोना में जीत के बाद जो बाइडन के पास 290 इलेक्टोरल वोट हो गए हैं। जबकि ट्रंप के पास 217 इलेक्टोरल वोट हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News