Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

एकमा में जदयू के सामने भाजपा के बागी पेश कर रहे चुनौती, राजद प्रत्‍याशी भी ठोक रहे हैं ताल

सारण। सारण लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत आने वाला एकमा विधानसभा क्षेत्र वर्ष 1951 में अस्तित्व में आया। यहां से कांग्रेस के लक्ष्‍मीनारायण सिंह विधायक चुने गए थे। परिसीमन में इस सीट का अस्तित्‍व समाप्‍त हो गया। पुन: सन 2008 में नए परिसीमन में एकमा विधानसभा क्षेत्र बना। 2010 में हुए चुनाव में जदयू के मनोरंजन सिंह उर्फ धूमल सिंह पहले विधायक बने। उन्‍होंने राजद के कामेश्‍वर कुमार सिंह को पराजित किया। 2015 में हुए चुनाव में भी उन्‍होंने भाजपा प्रत्‍याशी के रूप में कामेश्‍वर सिंह को शिकस्‍त दी। इस चुनाव में कामेश्‍वर कुमार सिंह भाजपा से बगावत कर लोजपा के टिकट पर मैदान में खड़े हैं। इधर जदयू विधायक मनोरंजन सिंह की जगह उनकी पत्‍नी सीता देवी जदयू की प्रत्‍याशी हैं। राजद से श्रीकांत यादव ताल ठोक रहे हैं।

प्रमुख प्रत्याशी

सीता देवी जदयू

श्रीकांत यादव राजद

कामेश्वर कुमार सिंह मुन्ना लोजपा

रंजीत सिह निर्दलीय

कुल 11 प्रत्‍याशी

प्रमुख मुद्दे :

1 एकमा नहीं बन सका अनुमंडल मुख्यालय: एकमा प्रखंड मुख्यालय छपरा से लगभग 35 किलोमीटर दूर है। इसलिए स्थानीय लोगों ने एकमा को अनुमंडल मुख्यालय एवं दाउदपुर को प्रखंड बनाने की मांग कई बार उठाई। इसके लिए धरना-प्रदर्शन भी किया गया। लेकिन ये मांग आज तक अधूरी रह गई।

2 : धूरधे चंवर: धूरधे चंवर में जलजमाव के कारण सैकड़ों एकड़ जमीन पर खेती नहीं हो पाती है। इससे निजात दिलाने के कई बार आवाज उठाई गई। लेकिन आज भी किसान अपनी जमीन पर खेती नहीं कर पा रहे।

 3: स्वास्थ्य: एकमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुद ही बीमार है। अस्पताल की कुव्यवस्था के कारण लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ती है। स्टाफ की कमी, दवा का अभाव, पैथोलॉजिकल जांच सहित अन्य कमी के कारण यहां आने वाले मरीजों का इलाज करने के बजाय रेफर कर दिया जाता है।

4: जलापूर्ति एवं जलनिकासी: एकमा में बनी पानी टंकी अनुपयोगी साबित हो रही है। इसके निर्माण पर लाखों रुपये व्यय करने के बाद भी पेयजल की आपूर्ति नहीं हो रही। निर्माण के बाद आज तक पाइप लाइन बिछा कर लोगों को कनेक्शन नहीं दिया जा सका। नगर पंचायत बनने के बाद भी बुनियादी सुविधाएं मयस्‍सर नहीं है।

एकमा विधानसभा सीट पर जीते व हारे :

वर्ष              जीते                                           हारे

2010 मनोरंजन सिंह उर्फ धूमल सिंह जदयू – कामेश्वर कुमार सिंह मुन्ना राजद

2015 मनोरंजन सिंह उर्फ धूमल सिंह जदयू -कामेश्वर कुमार सिंह मुन्ना भाजपा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News