Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

जनसभा में खाली कुर्सियां देख BJP नेताओं पर भड़की उमा भारती, बिना भाषण दिए हुई रवाना

भिंड: बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती के खिलाफ मध्य प्रदेश की मेहगांव में विरोध देखने को मिला। जहां अपनी चुनावी सभा में प्रचार के लिए पहुंची पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के कार्यक्रम में खाली कुर्सियां देखने को मिली। जिससे उमा भारती का गुस्सा बढ़ गया और वे मंच से अपनी ही पार्टी के नेताओं पर भड़क गई। दरअसल, बुधवार को मेहगांव विधानसभा के नुनहाड़ गांव में बीजेपी प्रत्याशी ओ पी एस भदौरिया के समर्थन में एक चुनावी सभा आयोजित की गई थी। इस सभा को संबोधित करने के लिए उमा भारती नुनहाड़ गांव पहुंची। लेकिन चुनावी सभा से 25 किलोमीटर दूरी पर उमा भारती के हेलीकॉप्टर के लिए हेलीपैड बनाया गया। हेलीपैड से सभा स्थल तक आते-आते उन्हें काफी वक्त लग गया। सभा में जब वे पहुंची तो बड़ी संख्या में खाली पड़ी कुर्सियों को देखकर उमा भारती का गुस्सा और भी बढ़ गया।

उमा भारती जैसे ही कार्यक्रम में पहुंची तो जनता ना होने और खाली पड़ी कुर्सियां देख उनकी नाराजगी बढ़ गई। उन्होंने मंच से ही संचालकों पर अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने मंच से बोलते हुए कहा कि जब सभा आयोजित नहीं कर पा रहे थे तो फिर मुझे क्यों बुलाया। हमारे घर परिवार का एक प्रत्याशी चुनाव मैदान में है, इसलिए मुझे यहां चुनाव प्रचार के लिए आना पड़ा नहीं तो लोग कहते कि उसकी वजह से चुनाव प्रचार करने नहीं आई।

मेरे साथ हमेशा भिंड मुरैना में ऐसा ही होता है। जब व्यवस्था नहीं हो पा रही थी तो फिर सभा आयोजित क्यों की गई। इतनी दूर हेलीपैड क्यों बना दिया गया। अगर अनुमति नहीं मिली थी तो मुझसे कोई दूसरा समय मांग लेते, मैं उस वक्त आ जाती। मेरा पूरा समय हेलीपैड से सभा स्थल तक पहुंचने में ही खत्म हो गया। अब मैं क्या भाषण दूं मुझे आप लोग क्षमा करें। हमारे कार्यक्रम के संचालक मंडल की वजह से यह सब हुआ है।

उमा भारती ने आगे कहा कि मैं कोरोना पॉजीटिव हो गई थी। कुछ दिन पहले निगेटिव होने के बाद मुझे 15-20 दिन के लिए आराम करने की सलाह दी गई थी। लेकिन मध्य प्रदेश चुनावों के मद्देनजर मैंने सोचा कि पार्टी को मजबूत करूं, लेकिन यहां पर संचालक मंडल ने सभा की ठीक व्यवस्था नहीं की। अब मैं यहां नहीं रुक पाऊंगी। यह कहकर उमा भारती उखड़े मन से सभा स्थल से रवाना हो गई।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News