Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

राहुल गांधी ने ट्रैक्टर पर बैठने के लिए गद्दे लगाने पर बयानबाजी करने वालों को दिया करारा जवाब

पटियाला: खेती बचाओ यात्रा के दौरान पंजाब में ट्रैक्टर रैलियां कर रहे राहुल गांधी द्वारा ट्रैक्टर पर गद्दे लगाकर बैठने पर अकाली दल व भाजपा द्वारा की जा रही बयानबाजी का करारा जवाब देते हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने दोस्त डोनाल्ड ट्रंप की नकल करते हुए देश के खजाने से 8 हजार करोड़ रुपए के हवाई जहाज खरीद लिए। इन जहाजों में आलीशान प्लंग लगे हैं। वह तो देश के किसानों के लिए सड़कों पर घूम रहे हैं। ट्रैक्टर पर गद्दे भी किसानों ने लगा कर दिए हैं, जबकि मोदी ने तो देश के लोगों के 8 हजार करोड़ रुपए अपने ऐशो आराम के लिए उजाड़ दिए हैं। उनके खिलाफ बयानबाजी करने वाले नेताओं और इलैक्ट्रानिक मीडिया को मोदी से इन जहाजों के बारे सवाल करना चाहिए।

‘देश मुझे आजाद प्रैस और आजाद संस्थाएं दे तो मैं मोदी सरकार का भोग डाल दूंगा’
पटियाला सर्किट हाऊस में राहुल गांधी ने कहा कि मोदी ने मीडिया संस्थाओं को जबरदस्ती गुलाम बना लिया है। अगर देश मुझे आजाद प्रैस और देश की आजाद संस्थाएं दे तो मोदी सरकार का भोग डाल दूंगा। उन्होंने कहा कि किसी भी देश में लोगों की आवाज बनने के लिए मीडिया, न्यायिक प्रणाली और संस्थाओं सहित विपक्ष ढांचे में रह कर काम करते हैं। पिछले कुछ समय से भारत में सारे ढांचे को भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने काबू किया हुआ है। सरकार द्वारा संस्थाओं पर काबिज होने की बड़ी समस्या का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि दुनिया का कोई भी देश आज ऐसी स्थिति का सामना नहीं कर रहा कि उसकी जमीन किसी अन्य देश ने हथिया ली हो और मीडिया सरकार से सवाल भी न पूछ सकता हो। मोदी की भारत के लोगों में कोई दिलचस्पी नहीं है, बल्कि उसका सरोकार तो सिर्फ अपने अक्स को बचाने और चमकाने तक सीमित है और अगर वह चीन की घुसपैठ को मान लेते तो इससे उनके अक्स को चोट लगनी थी।

उन्होंने मीडिया को कहा कि आप प्रैस कांफ्रैंसों में मोदी को सवाल क्यों नहीं करते? सरकार किसानों, नौजवानों और छोटे व्यापारियों को गुलाम नहीं बना सकती। वह इन लोगों के हितों के लिए बड़ी से बड़ी लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि परमात्मा ने उन्हें सहनशीलता दी है और गांधी जी के बताए मार्ग पर चलते हुए वह देश को मोदी से आजाद करवाएंगे। मोदी और उनके सहयोगियों द्वारा पंजाब और हरियाणा में अपने विरोध प्रदर्शन का मजाक उड़ाने बारे पूछे गए एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने इसको नकारते हुए कहा कि मोदी और उसके सहयोगियों ने फरवरी में भी ऐसा ही किया था, जब उन्होंने पहली बार कोरोना बारे सचेत किया था पर अब सच सब के सामने है। श्री राहुल गांधी ने बड़े कार्पोरेट घरानों के निर्देशों पर एस.एम.ईज और छोटे कारोबारों जैसी मुख्य प्रणालियों, जो देश की रीढ़ की हड्डी हैं और लाखों नौजवानों के लिए रोजगार का साधन भी हैं, को खत्म करने के लिए मोदी सरकार की कड़ी ङ्क्षनदा की। नोटबंदी और जी.एस.टी. की तरह खेती कानून को मोदी सरकार की बड़ी प्राप्तियां बताए जाने संबंधी भाजपा के दावों पर टिप्पणी करने बारे पूछे जाने पर राहुल ने मीडिया को कहा कि वह जाकर छोटे व्यापारियों व कारोबारियों और किसानों से ही पूछ लें कि उन्होंने मोदी सरकार की इन कार्रवाइयों को प्राप्तियां माना है या असफलता?

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News