Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

भाजपा ने जारी की 121 विधानसभाओं की सूची, इन सीटों पर उतारेगी उम्मीदवार

बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने कोटे की 121 सीटों की सूची आज जारी कर दी।        राजग ने बिहार विधानसभा चुनाव के लिए आज घटक दलों के बीच सीट बंटवारे की घोषणा कर दी, जिसके तहत जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के हिस्से में 122 और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की झोली में 121 सीट गई है। भाजपा ने अपने कोटे की सीटों की सूची जारी कर बताया कि पार्टी पश्चिम चंपारण जिले के रामनगर (सु), नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, नौतन, चनपटिया एवं बेतिया, पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल, सुगौली, हरसिद्धि (सु), गोविंदगंज, कल्याणपुर, पिपरा, मधुबन, मोतिहारी, चिरैया और ढाका सीट पर चुनाव लड़ेगी।

भाजपा सीतामढ़ी जिले के रीगा, बथनाहा (सु), परिहार एवं सीतामढ़ी, मधुबनी जिले के बेनीपट्टी, खजौली, बिस्फी, मधुबनी, राजनगर( सु) एवं झंझारपुर, सुपौल जिले के छातापुर, अररिया जिले के नरपतगंज, फॉरबिसगंज, जोकीहाट, एवं सिकटी, किशनगंज जिले के बहादुरगंज एवं किशनगंज, पूर्णिया जिले के बायसी, बनमनखी (सु) एवं पूर्णिया, कटिहार जिले के कटिहार, बलरामपुर, प्राणपुर एवं कोढ़ा (सु), सहरसा जिले के सहरसा एवं सिमरी बख्तियारपुर सीट पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

इससे पहले सीटों के बंटवारे के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा,’ हमलोग बिहार के विकास के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। हमें एक साथ काम करने का एक लंबा अनुभव है और आगे भी प्रदेश के विकास के लिए काम करते रहेंगे।” उन्होंने बिना किसी का नाम लिए विपक्ष पर निशाना साधा और कहा कि कुछ लोगों को बिना वजह बोलने की आदत है लेकिन वह इन सब बातों को कोई महत्व नहीं देते हैं।

कुमार ने पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव एवं राबड़ी देवी का नाम लिए बगैर कहा कि सबको मालूम है कि वर्ष 2005 के पहले के पंद्रह साल तक जिनको राज्य में काम करने का मौका मिला उन्होंने क्या किया। उनके समय में रोजगार की क्या स्थिति थी, अपराध चरम पर था और सामूहिक नरसंहार की घटनाएं होती थी। राज्य में न सड़कों की स्थिति ठीक थी और न ही विद्यालय ठीक से चल रहे थे। विश्वविद्यालय में शिक्षकों को तनख्वाह तक नहीं मिलती थी। लेकिन, वर्ष 2005 में उनके नेतृत्व में बनी राजग की सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य समेत सभी क्षेत्रों के विकास के लिए काम किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने शुरू से ही न्याय के साथ सबका विकास यानी समाज के हर तबके का उत्थान एवं हर इलाके का विकास के सिद्धांत पर काम किया और आगे भी करती रहेगी। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से पूरी दुनिया जूझ रही है इसके बावजूद बिहार में उनकी सरकार ने इसकी रोकथाम एवं बचाव के लिए काफी काम किए हैं। उन्होंने लॉकडाउन में बाहर फंसे लोगों के लिए ‘प्रवासी’ शब्द के इस्तेमाल पर फिर से आपत्ति जताई और कहा कि ऐसे लोगों को बिहार लाने के लिए उन्होंने जितना संभव था वह सब किया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News