Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

असम के पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में पूर्व डीआइजी और भाजपा नेता पर इनाम घोषित

गुवाहाटी। असम के पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में सोमवार को छह और आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में अब तक कुल 19 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) भास्कर ज्योति ने कहा कि इस मामले में संलिप्त एक पूर्व पुलिस अधिकारी और भाजपा नेता पर इनाम की घोषणा की गई है।

मीडिया से बात करते हुए डीजीपी ने कहा कि आरोपित कितने भी बड़े हों, संलिप्तता पाए जाने पर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। कहा कि इस मामले हमें पूर्व डीआइजी पीके दत्ता और दीबान डेका की तलाश है। इनकी गिरफ्तारी के लिए इनाम की घोषणा की गई है

इस दौरान सीआइडी, गुवाहाटी पुलिस और असम पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने अब तक हुई गिरफ्तारियों के बारे में जानकारी दी। दोनों मुख्य आरोपितों के बारे में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह ने विस्तार से जानकारी दी। कहा कि दत्ता और दीबान डेका की तलाश की जा रही है। दत्ता के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया है। उनके द्वारा गैरकानूनी ढंग से कमाई गई संपत्ति की जांच कर इस संबंध में अलग से मामला दर्ज किया जाएगा।

इससे पहले जांच एजेंसियों ने दिबान डेका के आवास और ठिकानों पर भी छापे मारे। जांच दल ने डेका का लैपटॉप, बैंक पासबुक और अन्य दस्तावेज कब्जे में ले लिए हैं। डेका की पत्नी से आवास पर ही कई घंटे तक पूछताछ की गई। इस बीच जेल में बंद अखिल गोगोई ने कहा है कि प्रश्नपत्र लीक घोटाला मध्य प्रदेश में हुए व्यापम घोटाले से भी ज्यादा बड़ा है।

दूसरी तरफ गुरुवार को दिबान ने सोशल मीडिया पर जानकारी दी थी कि वह भी पुलिस भर्ती की परीक्षा प्रक्रिया से जुड़े हुए हैं। हत्या के डर से वह असम छोड़ रहे हैं। क्योंकि इस मामले में असम पुलिस के कई बड़े और भ्रष्ट अधिकारी शामिल हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News