Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

आज शिक्षकों से करेंगे शिक्षा मंत्री लाइव चर्चा, बोर्ड परीक्षाओं को लेकर पूछें सवाल

नई दिल्ली।हाल ही में 10 दिसंबर को पूरे देश के स्टूडेंट्स के साथ ऑनलाइन चर्चा के बाद अब केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ आज, 17 दिसंबर 2020 को देश भर के शिक्षकों के साथ लाइव सोशल इंटेरैक्शन करेंगे। यह इंटेरैक्शन ऑफिसियल ट्विटर एकाउंट पर शाम 4 बजे से आयोजित किया जाएगा। शिक्षा मंत्री आज ऑनलाइन लाइव सोशल इंटेरैक्शन के दौरान बोर्ड परीक्षाओं और विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं को लेकर टीचर्स से चर्चा करेंगे और देश भर के शिक्षकों के सवालों का जवाब देंगे। जो भी शिक्षक शिक्षा मंत्री से बोर्ड परीक्षाओं से सम्बन्धित प्रश्न पूछना चाहते हैं, वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्वीटर पर हैशटैग #EducationMinisterGoesLive को फॉलो करते हुए पूछ सकते हैं।

शिक्षा मंत्री ने देश भर के शिक्षको के साथ आज होने वाले सोशल इंटेरैक्शन को लेकर कहा, “प्रिय अध्यापकों, मैं आपसे बोर्ड परीक्षाओं को लेकर विमर्श करने जा रहा हूं। आप अपने सवाल या समस्या मुझसे साझा करें। शाम 4 बजे लाइव जुड़ें।“

सोशल इंटेरैक्शन के ट्वीट के साथ विभिन्न शिक्षकों ने शिक्षा मंत्री से सवाल पूछने भी शुरू कर दिये हैं। इनमें से कुछ निम्नलिखित हैं:-

  1. बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन फरवरी-मार्च में ही हो अन्यथा अगले वर्ष की परीक्षाओं में भी देरी होगी।
  2. बोर्ड परीक्षाएं स्थगित हों और तैयारी के लिए अधिक समय मिले क्योंकि ऑनलाइन कक्षाओं से कोई फायदा नहीं हो रहा है, विशेषतौर पर फिजिक्स एवं केमिस्ट्री की कक्षाओं में।
  3. स्टूडेंट्स को बिना परीक्षा प्रमोट किया जाए।
  4. कर्नाटक के एक शिक्षक ने ट्वीट किया कि बोर्ड परीक्षाओं के लिए कम से कम दो महानों का समय मिलना चाहिए।
  5. बोर्ड परीक्षाएं ऑनलाइन होनी चाहिए। जब कक्षाएं ऑनलाइन हो रही हैं और तैयारी ऑनलाइन हो रही है तो ऐसे में परीक्षा भी ऑनलाइन ही हो।
  6. बोर्ड परीक्षाएं स्थगित होनी चाहिए क्योंकि सिलेबस अभी तक पूरा नहीं हो पाया है।
  7. बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन कम से कम 80 दिनों की ऑफलाइन कक्षाओं के बाद ही किया जाना चाहिए।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News