Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

केरल में स्थानीय निकाय चुनावों के दौरान पर्यावरण को सुरक्षित रखने का दिया गया संदेश

तिरुवनंतपुरम। केरल में गुरुवार को आयोजित किए गए स्थानीय निकाय चुनावों के दूसरे चरण के दौरान राज्य भर में ‘हरिता बूथ’ की स्थापना की गई। इन बूथ के जरिए पर्यावरण के बारे में संदेश किया गया। सुचित्वा मिशन के तहत इन बूथों का ओयजन किया गया था। सुचित्वा मिशन के प्रोग्राम ऑफिसर धन्या जोसी ने कहा, “हम संदेश देना चाहते हैं कि हमें पर्यावरण पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और कचरे को कम करना चाहिए’।

बता दें कि  बीते दिन केरल में स्थानीय निकाय चुनाव के लिए पांच जिलों में दूसरे दौर का मतदान किया गया था। कोट्टायम एर्नाकुलम त्रिशूर पलक्कड़ और वायनाड में 451 स्थानीय निकायों में 8116 वार्डों के लिए मतदान आयोजित किए गए थे। वोटिंग के लिए 12643 मतदान केंद्र बनाए गए थे। 473 संवेदनशील मतदान केंद्रों में वेबकास्टिंग भी हुई। चुनाव ड्यूटी के लिए कुल 63,187 कर्मियों को तैनात किया गया था। मतदान सुबह सात बजे से शुरू हुआ है और शाम छह बजे तक चला था।

बता दें कि एर्नाकुलम जिले में 111 स्थानीय निकायों में 2,045 वार्ड हैं। इसमें कोच्चि निगम शामिल है। जिले में 3,132 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 272 संवेदनशील बूथ हैं। जिले में चुनाव ड्यूटी के लिए 15,660 कर्मियों को तैनात किया गया था।

14 दिसंबर को अंतिम चुरण का मतदान

बता दें कि राज्य में तीन-चरण के चुनाव हैं। पहले चरण में 72.7 फीसद मतदाताओं ने मतदान किया। अंतिम चरण में 14 दिसंबर को मतदान होगा। 16 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी। पहले चरण के चुनाव में मंगलवार को पांच जिलों में वोटिंग हुई। इस दौरान तिरुवनंतपुरम में 69.76 फीसद मतदान हुआ। कोल्लम में 73.41 फीसद, पठानमथिट्टा में 69.70 फीसदी मतदान हुआ।अलप्पुझा 77.23 प्रतिशत और इडुक्की 74.56 प्रतिशत मतदान हुआ। कोल्लम निगम में मतदान 59.73 प्रतिशत रहा, जबकि तिरुवनंतपुरम निगम में 66.06 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News