Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

अमेरिका में जल्द शुरू होगा फाइजर वैक्सीन का आपातकालीन इस्तेमाल, FDA ने दी मंजूरी

वाशिंगटन। अमेरिका में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों पर रोक लगाने के लिए जल्द ही  वैक्सीन का आपातकालीन उपयोग शुरू किया जा सकता है। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने गुरुवार को फाइजर-बायोटेक कोविड-19 वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग अपनी मंजूरी दे दी है। एफडीए के इस पैनल में वैक्सीन सलाहकार, वैज्ञानिक, संक्रामक रोग डॉक्टर और सांख्यिकीविद शामिल थे। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबकि पैनल में इस बात पर सहमति बनी की वैक्सीन का 16 से ज्यादा उम्र के लोगों पर आपातकालीन उपयोग शुरू किया जाए। बता दें कि बुधवार को देश में कोरोना के कारण सबसे ज्यादा तीन हजार से भी अधिक मौतें दर्ज की गईं थीं। अब वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद देश में कोरोना स्थिति पर काबू पाया जा सकेगा।

गुरुवार को आठ घंटे की जनसुनवाई के बाद एफडीए पैनल में मौजूद सदस्यों ने फाइजर और उसके जर्मन साथी बायोएनटेक द्वारा विकसित वैक्सीन के उपयोग के समर्थन में वोट दिया। अब उम्मीद जताई जा रही है कि ब्रिटेन के बाद अमेरिका भी फाइजर वैक्सीन के टीके को जल्द मंजूदी दे देगा।

उम्मीद है कि एफडीए की मंजूरी मिलने के बाद शनिवार को वैक्सीन का आपातकालीन उपयोग किया जा सकता है। गौरतलब है कि यूके, कनाडा, बहरीन और सऊदी अरब में जनता के लिए फाइजर वैक्सीन को मंजूरी दी जा चुकी है। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, ट्रंप प्रशासन के मल्टी-बिलियन-डॉलर प्रोग्राम के ऑपरेशन वार स्पीड के तहत जुलाई में वैक्सीन की दस करोड़ डोज का ऑर्डर दिया जा चुका है। इसके साथ ही मॉडर्ना वैक्सीन के विकास और निर्माण का भारी भी समर्थन किया गया है।

गौरतलब है कि अमेरिका में कल कोरोना संक्रमण के कारण रिकॉर्ड मौतें दर्ज की गई थीं। यहां 24 घंटों में तीन हजार लोगों की मृत्यु हो गई है। ऐसा पहली बार है जब यहां एक दिन में इतनी ज्यादा मौतें दर्ज की गई हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News