Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

डोनाल्ड ट्रंप ने अभी भी नहीं मानी हार, राष्ट्रपति पद पर बने रहने का किया दावा

वाशिंगटन। अमेरिका के नवनिर्वाचित जो बाइडेन को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जीत का आधिकारिक प्रमाण पत्र कुछ ही दिनों में मिलने वाला है, लेकिन अभी भी वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हार नहीं स्वीकारी है। उन्होंने दावा किया कि वह पद पर बने रहेंगे। वह लागतार राष्ट्रपति चुनाव में धोखाधड़ी और कदाचार के दावे कर रहे हैं। वहीं चुनाव अधिकारियों और मीडिया ने इस तरह के किसी भी धोखाधड़ी से इन्कार किया है। बाइडेन को राष्ट्रपति चुनाव में विजेता घोषित किया जा चुका है। उन्हें 538 इलेक्टोरल कॉलेज के मतों में से 270 से अधिक मत प्राप्त हुए हैं।

ट्रंप ने सत्ता हस्तांतरण की आधिकारिक शुरुआत की अनुमति दी है, लेकिन अभी तक हार नहीं मानी है। ट्रंप कैंपेन ने कई राज्यों में चुनाव के दौरान  धोखाधड़ी को लेकर मुकदमे दायर किए हैं, लेकिन कुछ खास सफलता उन्हें हासिल नहीं हुई है। इनमें से अधिकांश मुकदमे अब तक खारिज हो गए हैं। ट्रंप ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में वैक्सीन समिट के दौरान पत्रकारों से कहा कि उम्मीद है कि अगला प्रशासन ट्रंप प्रशासन होगा, जिसके कार्यकाल के दौरान शेयर बाजार उच्चतम स्थान पर पहुंचा। इस दौरान सबसे ज्यादा रोजगार पैदा हुआ और सेना का पुनर्निर्माण हुआ।

ट्रंप ने यह बात एक सवाल के जवाब में कही। उनसे सवाल किया गया कि उन्होंने बाइडेन की टीम के सदस्यों को बैठक में आमंत्रित क्यों नहीं किया? जिन्होंने अमेरिका में कोरोना वैक्सीन वितरित करने की योजनाओं पर विचार-विमर्श किया था। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘ देखते है अगली सरकार किसकी होती है? क्योंकि हमने उन स्विंग स्टेट्स में जीत हासिल की है और वहां गलत चीजें हो रही थीं। इसलिए हमें यह देखना होगा कि अगली सरकार किसकी होती है। जिस किसी की सरकार होगी उसे फायदा होगा।  वास्तव में इस विज्ञान, डॉक्टरों और लैब तकनीशियनों के साथ मिलकर हमने जो काम किया गया है वह अविश्वसनीय है। यह अगले प्रशासन के लिए फायदेमंद साबित होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News