Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

कोरोना काल में आगरा जेल से पैरोल पर छोड़े गए 114 बंदियों में 85 नहीं हुए हाजिर

आगरा: कोरोना वायरस संक्रमण काल में उत्तर प्रदेश की आगरा जिला जेल से पैरोल पर छोड़े गये सजायाफ्ता 114 बंदियों में शनिवार तक 85 लौटकर नहीं आये हैं। इस संबंध में जिला जेल अधीक्षक शशिकांत मिश्रा ने बताया कि जेल प्रशासन ने बंदियों के बारे में जानकारी के लिए पुलिस अधिकारियों को पत्र भेजे हैं।

बता दें कि संक्रमण को देखते हुए अप्रैल में सात साल से कम सजा के मामले में सजा काट रहे बंदियों को पैरोल पर छोडऩे के आदेश दिये गये थे। इस पर जिला जेल से 114 बंदियों को दो और नौ अप्रैल को छोड़ा गया था। जेल अधीक्षक के अनुसार, बंदियों को 13 नवंबर और 21 नवंबर को वापस आना था। इनकी पैरोल अवधि समाप्त हो गयी थी। उन्होंने कहा कि इनमें से नौ बंदियों की रिहाई हो गयी है।

वहीं, नौ बंदियों की किसी अन्य केस पर सुनवाई थी जबकि चार हाजिर हुए हैं। इनके अलावा शनिवार तक सात और बंदी हाजिर हो गये। ऐसे में 85 अभी तक वापस नहीं आये हैं। इनके बारे में जानकारी के लिए पुलिस अधिकारियों को पत्र लिख दिया गया है। मिश्रा ने कहा कि प्रत्येक बंदी को पहले अस्थायी जेल में रखा जायेगा और कोरोना जांच की रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही उन्हें जेल में दाखिल किया जायेगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News