Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

गुजरात के राजकोट में कोविड सेंटर अस्पताल में देर रात लगी भीषण आग, 5 लोगों की मौत

राजकोट। गुजरात के राजकोट के एक कोरोना अस्पताल में देर रात भीषण आग लग गई। इस हादसे में पांच मरीजों की मौत हो गई है। यह हादसा राजकोट में शिवानंद अस्पताल के आईसीयू में भीषण आग लगने से पांच लोगों की मौत हो गई। इस अस्पताल में कुल 33 मरीज भर्ती थे। कोरोना अस्पताल होने की वजह से आईसीयू में कुल 11 मरीज भर्ती थे। जिसमें पांच लोगों की झुलसने से मौत हो गई। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस घटना की जांच के आदेश दिए हैं। आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है।

जानकारी पाए जाने तक आग बुझाने के लिए मौके पर कई दमकलों को भेजा गया, जिसके बाद आग पर काबू पाया जा सका है। मावड़ी इलाके के उदय शिवानंद अस्पताल के आईसीयू में लगभग 1 बजे आग लग गई, जहां 33 मरीजों को भर्ती किया गया था। फायर ब्रिगेड के अधिकार जे बी थेवा ने कहा कि सात मरीजों को आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उन्होंने कहा कि हम मौके पर पहुंचे और आग बुझाने की सूचना के बाद 30 मरीजों को बचाया गया।

आग काबू में है। उन्होंने कहा कि आग के कारणों का अभी तक पता नहीं चला है। उन्होंने कहा कि बचाए गए मरीजों को अन्य COVID-19 अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है। फिलहाल कोई भी अधिकारी आग लगने के कारणों को लेकर कुछ नहीं बोल रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल बाकी मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करने और अन्य कार्यों पर ध्यान दिया जा रहा है। आग लगने के सही कारणों का पता लगाया जाएगा। अब तक की प्राप्त जानकारी के अनुसार आग की शुरुआत आईसीयू से हुई थी।

इससे पहले अहमदाबाद में भी ऐसा ही एक हादसा सामने आया था। अगस्त में अहमदाबाद के चार मंजिला निजी अस्पताल के शीर्ष तल पर आग लगने के बाद आठ COVID-19 रोगियों की मौत हो गई थी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News