Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

शिवराज की पहल पर कोरोना पीड़ित डॉक्टर का चेन्नई में होगा इलाज, सीएम ने स्वीकृत किए 80 लाख रुपये

सागर। जिले के कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए कोरोना महामारी की चपेट में आए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज ( बीएमसी ) के डॉक्टर शुभम उपाध्याय का इलाज अब चेन्नई में होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले को संज्ञान में लेते हुए अपने ट्विटर एकाउंट पर डॉक्टर शुभम पर गर्व करते हुए कहा कि सरकार उनके साथ है और चेन्नई के एमजीएम हॉस्पिटल में उनका हरसंभव इलाज कराने की व्यवस्था कर दी गई है।

गरीब किसान के पुत्र कोरोना पीड़ित डॉक्टर के इलाज के लिए मुख्यमंत्री ने 80 लाख रुपये किए मंजूर

इलाज के लिए मुख्यमंत्री ने 80 लाख रुपये मंजूर किए हैं। यहां के बीएमसी में पदस्थ डॉ. शुभम उपाध्याय कोरोना संक्रमितों का लगातार इलाज करते हुए 28 अक्टूबर को स्वयं संक्रमित हो गए थे।

10 नवंबर को भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था

बीएमसी में उनकी हालत में सुधार नहीं होने पर उन्हें 10 नवंबर को भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां भी उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ है।

गरीब किसान के पुत्र, इलाज में जमा पूंजी हुई खर्च

जिले के केसली निवासी डॉ. शुभम एक किसान के बेटे हैं और आर्थिक स्थिति मजबूत न होने के कारण वे महंगा इलाज कराने में असमर्थ हैं। इलाज में परिवार की जमा पूंजी भी खर्च हो गई है। उनके परिजन ने अच्छे इलाज के लिए शासन से गुहार लगाई थी।

फेफड़े ट्रांसप्लांट कराना होंगे, मुख्यमंत्री ने इलाज के लिए स्वीकृत किए 80 लाख रुपये

पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने बताया कि बीएमसी के डॉक्टरों व इंटरनेट मीडिया के माध्यम से मुझे जानकारी मिली थी। मैंने उनके इलाज के लिए डॉक्टरों से संपर्क किया। वे ठीक हो सकें इसलिए फेफड़े ट्रांसप्लांट कराना होंगे, जिसके बाद मैंने चेन्नई के अस्पताल के खर्च को लेकर मुख्यमंत्री से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने इसके लिए 80 लाख रुपये स्वीकृत किए हैं।

चेन्नई के उसी अस्पताल में ठीक हो चुका है दिल्ली का डॉक्टर 

मप्र चिकित्सा अधिकारी संघ के अध्यक्ष डॉ. देवेंद्र गोस्वामी ने बताया कि डॉ. शुभम को जिस अस्पताल में भेज रहे हैं, वहां फेफड़ा बदलने की सुविधा है। दिल्ली एम्स से भी एक डॉक्टर को इस अस्पताल में शिफ्ट किया गया था, जो ठीक हो गए थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News