Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

शिवराज की पहल पर कोरोना पीड़ित डॉक्टर का चेन्नई में होगा इलाज, सीएम ने स्वीकृत किए 80 लाख रुपये

सागर। जिले के कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए कोरोना महामारी की चपेट में आए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज ( बीएमसी ) के डॉक्टर शुभम उपाध्याय का इलाज अब चेन्नई में होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मामले को संज्ञान में लेते हुए अपने ट्विटर एकाउंट पर डॉक्टर शुभम पर गर्व करते हुए कहा कि सरकार उनके साथ है और चेन्नई के एमजीएम हॉस्पिटल में उनका हरसंभव इलाज कराने की व्यवस्था कर दी गई है।

गरीब किसान के पुत्र कोरोना पीड़ित डॉक्टर के इलाज के लिए मुख्यमंत्री ने 80 लाख रुपये किए मंजूर

इलाज के लिए मुख्यमंत्री ने 80 लाख रुपये मंजूर किए हैं। यहां के बीएमसी में पदस्थ डॉ. शुभम उपाध्याय कोरोना संक्रमितों का लगातार इलाज करते हुए 28 अक्टूबर को स्वयं संक्रमित हो गए थे।

10 नवंबर को भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था

बीएमसी में उनकी हालत में सुधार नहीं होने पर उन्हें 10 नवंबर को भोपाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां भी उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ है।

गरीब किसान के पुत्र, इलाज में जमा पूंजी हुई खर्च

जिले के केसली निवासी डॉ. शुभम एक किसान के बेटे हैं और आर्थिक स्थिति मजबूत न होने के कारण वे महंगा इलाज कराने में असमर्थ हैं। इलाज में परिवार की जमा पूंजी भी खर्च हो गई है। उनके परिजन ने अच्छे इलाज के लिए शासन से गुहार लगाई थी।

फेफड़े ट्रांसप्लांट कराना होंगे, मुख्यमंत्री ने इलाज के लिए स्वीकृत किए 80 लाख रुपये

पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव ने बताया कि बीएमसी के डॉक्टरों व इंटरनेट मीडिया के माध्यम से मुझे जानकारी मिली थी। मैंने उनके इलाज के लिए डॉक्टरों से संपर्क किया। वे ठीक हो सकें इसलिए फेफड़े ट्रांसप्लांट कराना होंगे, जिसके बाद मैंने चेन्नई के अस्पताल के खर्च को लेकर मुख्यमंत्री से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने इसके लिए 80 लाख रुपये स्वीकृत किए हैं।

चेन्नई के उसी अस्पताल में ठीक हो चुका है दिल्ली का डॉक्टर 

मप्र चिकित्सा अधिकारी संघ के अध्यक्ष डॉ. देवेंद्र गोस्वामी ने बताया कि डॉ. शुभम को जिस अस्पताल में भेज रहे हैं, वहां फेफड़ा बदलने की सुविधा है। दिल्ली एम्स से भी एक डॉक्टर को इस अस्पताल में शिफ्ट किया गया था, जो ठीक हो गए थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News