Cover
ब्रेकिंग
उद्धव सरकार ने 4 राज्यों से आने वाले लोगों के लिए अनिवार्य किया RT-PCR टेस्ट कैसे चेक करें अपना LIC पॉलिसी स्टेटस ऑनलाइन, जानें इसका तरीका रेलवे में नौकरी का इंतजार करने वालों के लिए खुशखबरी, 1.40 लाख पदों पर परीक्षा कराने की तैयारी नगरोटा पर पाकिस्‍तान को घेरने की पूरी तैयारी, श्रृंगला ने संभाली कमान, राजदूतों को बुला कर दी जानकारी असम के लगातार 15 साल मुख्यमंत्री और 6 बार सांसद रहे गोगोई का निधन सीरम का एस्ट्राजेनेका से वैक्‍सीन की 10 करोड़ डोज का समझौता कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आज पीएम मोदी की अहम बैठक, वैक्सीन पर भी चर्चा आतंकवाद, नशे के कारोबार को बल देने वाली मनी लांड्रिंग पर अंकुश नहीं लग पाना एक बड़ी चुनौती कोरोना जैसी प्राणहंता महामारी व जानलेवा प्रदूषण को देखते हुए भी लोग करते हैं नागरिक कर्तव्यों की अवहेलना बाइडन मंगलवार को मंत्रिमंडल की करेंगे घोषणा, ट्रंप कैंपेन की ओर से रोड़े अटकाने का काम जारी

बाइडेन बदलेंगे ट्रंप का फैसला, अमेरिका फिर से जॉइन करेगा WHO और पेरिस जलवायु समझौता

अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गुरुवार को कहा कि उनका देश विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और पेरिस जलवायु समझौते (Paris Climate Accord) से फिर से जुड़ जाएगा। बाइडेन ने राष्ट्रपति की बहस के दौरान चीन पर उनकी टिप्पणियों के बारे में एक सवाल का जवाब देते यह बात कही। एक द्विदलीय समूह के गवर्नर के साथ बैठक में बोलते हुए बाइडेन ने कहा कि आर्थिक प्रतिबंधों जैसे उपायों के माध्यम से चीन को दंडित करने से अधिक बीजिंग के लिए यह समझना अधिक महत्वपूर्ण है कि वे नियमों से खेलते हैं।”

बाइडेन ने कहा ”यह एक कारण है कि हम पहले दिन विश्व स्वास्थ्य संगठन में फिर से शामिल होने जा रहे हैं… हम पेरिस जलवायु समझौते में फिर से शामिल होने जा रहे हैं।” बाइडेन ने कहा “हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि बाकी दुनिया और हम एक साथ रहें और सुनिश्चित करें कि कुछ सही लाइनें हैं जो चीनी समझ रहे हैं।” उन्होंने हालांकि कहा कि संयुक्त राष्ट्र के संगठन में सुधारों की जरूरत है। इस साल जुलाई में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से किनारा कर लिया था।

जून 2017 में ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते से बाहर निकल गए थे, जिसके परिणामस्वरूप विश्व नेताओं और पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने तीखी आलोचना की थी। अपने चुनाव अभियान के दौरान बाइडेन ने ट्रंप द्वारा लिए गए दोनों निर्णयों को उलटने की कसम खाई थी।

अमेरिकी चुनाव (US President Election) में विजेता घोषित किए जाने के लगभग एक हफ्ते बाद शुक्रवार को चीन ने अमेरिकी राष्ट्रपति-चुनाव में जो बाइडेन को जीत के लिए बधाई दी। डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के तहत हाल के वर्षों में अमेरिका और चीन संबंधों में कड़वाहट बढ़ी है और दोनों देशों ने कई मौकों पर खुलकर एक दूसरे की आलोचना की है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News