Cover
ब्रेकिंग
आतंकवाद, नशे के कारोबार को बल देने वाली मनी लांड्रिंग पर अंकुश नहीं लग पाना एक बड़ी चुनौती कोरोना जैसी प्राणहंता महामारी व जानलेवा प्रदूषण को देखते हुए भी लोग करते हैं नागरिक कर्तव्यों की अवहेलना बाइडन मंगलवार को मंत्रिमंडल की करेंगे घोषणा, ट्रंप कैंपेन की ओर से रोड़े अटकाने का काम जारी पाक मंत्री ने इमैनुअल मैक्रों के खिलाफ नाजी संबंधी बयान लिया वापस, फ्रांस सरकार ने जताई थी कड़ी आपत्ति प्रधानमंत्री मोदी कोरोना संक्रमण के मौजूदा हालात की समीक्षा के लिए राज्यों के साथ कर सकते हैं बैठक कोरोना वैक्सीन के आपात इस्तेमाल के तरीकों पर हो रहा विचार, टास्क फोर्स तय करेगी आपात प्रयोग के तौर तरीके पंजाब में रेल परिचालन शुरू, आज चलेगी मालगाड़ी और 24 नवंबर से घूमेगा ट्रेनों का पहिया आज से खुलेंगी मध्य प्रदेश की अधीनस्थ अदालतें, पांच दिसंबर तक चलेगी प्रायोगिक सुनवाई तकनीक के इस्तेमाल से तेज गति से विकास कर सकती है दुनिया, जी-20 देशों को पीएम मोदी ने दिखाया भविष्य का रास्ता ना'पाक' साजिश बेपर्दा, सीमा पर मिली सुरंग, इसी रास्ते से घुसे थे मारे गए चारों जैश आतंकी

देशभर में स्थापित हुए 50 हजार आयुष्मान भारत हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर, ईसंजीवनी ने आठ लाख परामर्श किए पूरे

नई दिल्ली। भारत ने व्यापक हेल्थकेयर की यात्रा में मील का पत्थर पार कर लिया है। देश भर में अब 50 हजार से ज्यादा आयुष्मान भारत हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर संचालित हैं। समाचार एजेंसी एएनआइ ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के हवाले से बताया है कि समुदायों को अपने घर के समीप समग्र प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने को ध्यान में रखते हुए दिसंबर 2022 तक 1.5 लाख सेंटर स्थापित किए जाएंगे।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, 50 हजार से ज्यादा सेंटर स्थापित किए जा चुके हैं। लक्ष्य का एक तिहाई पूरा हो चुका है। इससे 25 करोड़ से ज्यादा लोगों के लिए वहन योग्य प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार आया है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों को कोविड-19 से उत्पन्न चुनौतियों के वाबजूद इन केंद्रों को संचालित करने में उनके प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया है। हर्षवर्धन ने कहा कि केंद्र और राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के संयुक्त प्रयास से यह संभव हो पाया है

उधर राष्ट्रीय टेलीमेडिसिन पहल ईसंजीवनी ने आठ लाख परामर्श पूरे कर लिए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। ईसंजीवनी और ईसंजीवनी ओपीडी प्लेटफार्म के माध्यम से सबसे ज्यादा संपर्क दर्ज करने वाले राज्यों में तमिलनाडु (2,59,904), उत्तर प्रदेश (2,19,715), केरल (58,000), हिमाचल प्रदेश (46,647), मध्य प्रदेश (43,045), गुजरात (41,765), आंध्र प्रदेश (35,217), उत्तराखंड (26,819) कर्नाटक (23,008) और महाराष्ट्र (9,741) शामिल हैं।

उल्‍लेखनीय है कि यह उपलब्‍ध‍ि ऐसे समय हासिल हुई हैं जब देश कोरोना महामारी से लड़ रहा है। देश में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 45,882 नए मामले सामने आए जिससे संक्रमितों का आंकड़ा 90 लाख के पार चला गया। देश में संक्रमितों की कुल संख्या 90,04,365 हो गई है। बीते 24 घंटों के दौरान देश में 584 लोगों की संक्रमण से जान गई। इससे मरने वालों की संख्या 1,32,162 हो गई है। हालांकि, मृत्यु दर में गिरावट जारी है। मौजूदा वक्‍त में यह घटकर 1.64 फीसद रह गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News