Cover
ब्रेकिंग
EOW ने नगर निगम के सिटी प्लानर को 50 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा, नगर निगम ने पद से हटाया पति बनाना चाहता है मुस्लिम, घर में देवी देवताओं की तस्वीरें भी नहीं रखने देता, महिला पहुंची थाने दिल्ली पुलिस में कांसटेबल भर्ती परीक्षा में धांधली कराने वाले 12 आरोपी गिरफ्तार कोरोना काल में आगरा जेल से पैरोल पर छोड़े गए 114 बंदियों में 85 नहीं हुए हाजिर सोमवार को SCO समिट में हिस्सा लेंगे पीएम मोदी, चौथी बार आमने सामने होंगे भारत-चीन जम्मू-कश्मीरः DDC चुनाव में दिखा लोगों का उत्साह, पहले चरण में 52 फीसदी वोटिंग कोरोना वैक्‍सीन के लि‍ए पीएम मोदी सीरम इंस्‍टीट्यूट पहुंचे, ली जानकारी गुजरात में अलंग शिप यार्ड के अपग्रेडेशन के लिए एनजीटी ने किया हस्तक्षेप करने से इन्कार राजनाथ बोले, एक सीमा तक शांति के मार्ग पर चलता रहेगा भारत, मोदी सरकार में हर मोर्चे पर मजबूती से डटा है देश सीमा पार के आतंकियों को खटक रहा घाटी का अमन चैन, सेना प्रमुख बोले- LoC पार बड़ी संख्‍या में लॉन्चिंग पैड मौजूद

OTT Content पर भी नज़र रखेगी भारत सरकार, जानें- कैसे बदल जाएगा वेबसीरीज का स्वरूप

नई दिल्ली। भारत में ओटीटी प्लेटफॉर्म का चलन लगातार बढ़ता जा रहा है और इस पर वेबसीरीज और फिल्मों के रुप में आने वाले कंटेंट को भी काफी पसंद किया जा रहा है। हालांकि, कई बार वेबसीरीज और ओटीटी कंटेंट में दिखाए जाने वाले एडल्ट और हिंसा के सीन पर बवाल भी खड़ा हो जाता है। अब सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसके तहत ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल, ऑनलाइन कॉन्टेंट प्रोवाइडरों को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत लाया गया है। यानी अब सरकार इन कंटेंट को भी मॉनिटर करेगी।

इससे सरकार ऑनलाइन कंटेंट पर नियंत्रण रख पाएगी और वेब सीरीज निर्माता भी सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार ही प्रोजेक्ट पर काम करेंगे। ऐसे में जानते हैं कि सरकार के इस फैसले से वेबसीरीज कंटेंट पर क्या असर पड़ सकता है..

एडल्ट कंटेंट पर लगेगी लगाम

अक्सर देखा जाता है कि वेबसीरीज में बिना किसी सेंसर के ऑनलाइन सीन शूट किए जाते हैं और उन्हें वेब शो में शामिल किया जाता है। हालांकि, अब वेबसीरीज निर्माताओं को इसके लिए सरकार की परमिशन लेनी पड़ सकती है। ऐसे में सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली फिल्मों की तरह इन्हें भी मॉनिटर किया जाएगा और फिल्म रिलीज से पहले दिखाना पड़ सकता है और इससे एडल्ट कंटेंट पर सख्ती भी हो सकती है।

भाषा पर हो सकता है कंट्रोल

आपने देखा होगा कि वेब शो में बिना किसी नियंत्रण के गालियों या एडल्ट भाषा का इस्तेमाल किया जाता है, जिस पर अब नियंत्रण हो सकता है। माना जा रहा है कि अगर सरकार इसे मॉनिटर करेगी तो भाषा को थोड़ा संयम किया जा सकता है। साथ ही जिस वजह से वेबशो की लोकप्रियता बढ़ रही थी, इस पर नियंत्रण हो सकता था।

कंटेट मेकर्स के लिए चुनौतियां

अभी वेबसीरीज में दर्शकों को बिना किसी नियंत्रण के फ्रीडम से बनाया हुआ कंटेंट उपलब्ध होता था, जिस वजह से उन्हें काफी पसंद किया जाता है। हालांकि, अब कंटेंट निर्माताओं को कंटेंट बनाने के बाद सरकारी गाइडलाइंस का पालन करना पड़ेगा, जिसके तहत ही कंटेंट बनाना होगा। वहीं, हो सकता है कि फिल्मों की तरह वेब शो के लिए सेंसर बोर्ड जैसे सर्टिफिकेट की आवश्यकता हो सकती है और इससे कई सीनों पर कैंची चलना लाजमी है।

विदेशी कंटेट को लेकर हो सकती है दिक्कतें

अभी कई ओटीटी प्लेटफॉर्म पर विदेशी कंटेंट भी भारी मात्रा में उपलब्ध है, जो उस देश के नियमों के अनुसार तैयार किया गया है। हालांकि, भारत में नियम अलग हैं, ऐसे में हो सकता है कई ऐसे वेबशो पर कंट्रोल किया जा सकेगा, जिनमें ज्यादा एडल्ट कंटेंट होगा। इससे विदेशी कंटेंट के शौकीन लोग कई नियमों के चलते या तो वो देख नहीं पाएंगे या फिर उनमें कुछ एडिटिंग की होगी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News