Cover
ब्रेकिंग
Rhea Chakraborty के भाई शौविक चक्रवर्ती को लगभग 3 महीने बाद मिली ज़मानत, ड्रग्स केस में हुई थी गिरफ़्तारी कांग्रेस का आरोप, केंद्र सरकार ने बैठक कर किसानों की आंखों में झोंकी धूल मुंबई: यूपी फिल्म सिटी निर्माण पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- हम यहां कुछ लेने नहीं, नया बनाने आए कर्नाटक में जनवरी-फरवरी में कोविड-19 की दूसरी लहर की आशंका, लोगों में डर का माहौल दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सख्त NGT, क्रिसमस-नए साल पर पटाखे नहीं चला पाएंगे लोग जाधव के लिए वकील नियुक्ति मामले पर विस्तार से चर्चा की सलाह, अहलूवालिया रखेंगे भारत का पक्ष पीड़िता बोली- ससुर करता था अश्लील हरकतें, 2 महीने की बच्ची पर भी तरस नहीं किया, दे दिया तीन तलाक भगवान को ठंड से बचाने के लिए भक्तों ने ओढ़ाए गर्म वस्त्र भूमाफिया बब्बू और छब्बू पर चला प्रशासन का डंडा, अवैध निर्माण जमींदोज दर्दनाक हादसे का सुखद अंत: 3 लोगों समेत अनियंत्रित बोलेरो गहरी नदी में समाई

अररिया में बोले PM मोदी- बिहार में हार रही रंगदारी, जीत रहा विकास, सहरसा पहुंचे

भागलपुर। LIVE PM Modi Bihar Election Rally Updates: बिहार में आज पीएम नरेंद्र मोदी की दो रैलियां हो रही हैं। इस वक्‍त वे अररिया के फासबिसगंज में जनता से रूबरू हैं। उनके आने के पहले वहां केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे, झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री बाबूलाल मरांडी, बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी, सांसद ललन सिंह आदि वहां पहुंच चुके थे। इस क्षेत्र में तीसरे चरण में सात नवंबर को मतदान होगा।

PM Modi Bihar Election Rally Updates:

बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

12:43 बजे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहरसा पहुंचे

12:05 बजे: प्रधानमंत्री सहरसा के लिए रवाना

12:01 बजे: प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण समाप्‍त

11:57 बजे: कृषि कानून में सुधार से किसानों को लाभ मिलेगा। उन्हें खेत के पास भंडारण की सुविधा मिलेगी। देश के अन्य हिस्सों में छात्रों को जो सुविधाएं मिलती हैं, यदि वही सुविधाएं बिहार को मिले तो यहां के युवा काफी आगे जा सकते हैं। बिहार में इसी सोच को लेकर मेडिकल-इंजीनियरिंग कॉलेज और एम्स खोले जा रहे हैं। बिहार को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से जोड़ा जा रहा है। अब गरीब मां का बेटा भी डॉक्टर-इंजीनियर बन सकता है। बिहार की इस गौरवशाली धरती को आत्मनिर्भर भारत बनाने में योगदान देना है।

11:55 बजे: बिहार प्रधानमंत्री ऊर्जा योजना से लाभान्वित होगा। पूर्णिया से जलालगढ़-अररिया होते हुए गैस पाइपलाइप बिछाने का काम चल रहा है। इस काम के पूरा होने के बाद आपकी परेशानी काफी कम होगी। एक समय था कि बिहार की नकारात्मक पहचान बना दी गई थी। इसके जिम्मेदार लोग कौन हैं, सब जानते हैं। मुझसे अधिक बिहार का एक-एक बच्चा इन बातों को जानता है। आज मुझे खुशी है कि बिहार की पहचान बदल रही है। बिहार के हर गांव को ब्रॉडबैंक-इंटरनेट से जोडऩे का काम हो रहा है। जीविका कार्यकर्ताओं को भी इससे आसानी होगी। जब जीविका दीदीयों को इंटरनेट मिलेगा तो उनकी बनाई चीजें आसानी से बिकेंगी। अररिया के एक एनजीओ का जिक्र किया।

11:50 बजे: एनडीए ने सीमांचल के कई जिलों में हर घर में नल का जल पहुंचाने का काम चल रहा है। बिहार में कनेक्टिविटी बेहतर करने के लिए भी काम चल रहा है। इससे उद्यम, उद्यमिता और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। अटल जी के समय इस इलाके में सड़क संपर्क सुधारने का काम किया गया। फारबिसगंज-जोगबनी या फारबिसगंज-सीतामढ़ी हाईवे पर काफी पैसे खर्च किए हैं। पूर्णिया में एयरपोर्ट के विस्तारीकरण की प्रक्रिया भी चल रही है। गलगलिया-अररिया रेललाइन का काम भी चल रहा है। इसी बड़े प्रयास का प्रमाण है कोसी महासेतु। दशकों पहले कोसी का पुराना पुल टूटने के बाद फिर कोसी पर पुल नहीं बन पाया था। दशकों से ये हमारे प्यारे मिथिलांचल को काटकर विपक्ष रखे हुए था। दशकों के बाद पूरा इलाका फिर से एक हुआ है। इससे लोगों का समय और पैसा बच रहा है। आज दुनिया के बड़े-बड़े देशों में गैस ग्रिड महत्वपपूर्ण है। बिहार देश के उन राज्यों में है, जहां गैस ग्रिड का विस्तार हो रहा है।

11:46 बजे: एनडीए सरकार वह कर रही है जो जनता के लिए जरूरी है। आज एनडीए की सरकार देश और बिहार के लोगों की एक-एक परेशानी को दूर करने का काम कर रही है। जब सिर पर छत होती है, पेट में अनाज होता है तो चिंताएं काफी कम हो जाती है। बिहार में गरीब परिवारों के लिए 25 लाख गरीब परिवारों को घर दिए जा रहे हैं। इनमें से 13 लाख लोगों को घर मिल चुके हैं। कोरोना के कारण काम थोड़ा धीमा हुआ है, लेकिन जल्द ही सभी गरीबों को घर मिल जाएगा। जब किसी मां-बाप को पक्का घर मिल जाता है तो उनका भी मन करता है कि बेटी को भी बढिय़ा घर मिल जाएगा। पक्का घर देखकर मेरी बेटी को भी अच्छा घर-परिवार मिलेगा। कुछ लोगों को यह परेशानी है कि मोदी चुनाव जीतता क्यों है? मोदी माताओं-बहनों की परेशानियों को दूर करने के लिए चुनाव जीतता है। तब गरीब का बेटा गरीबों की सेवा करता रहता है। गांव-देहात के लोगों को घर-जमीन के मालिकाना हक को लेकर बड़ी दिक्कत रही है। इनपर कब्जे की शिकायतें आम रहती थीं। इस परेशानी को दूर करने के लिए भारत सरकार ने स्वामित्व योजना शुरू की। इस योजना के तहत गांव के लोगों को घर-जमीन का प्रॉपर्टी कार्ड दिया जा रहा है। ड्रोन से सर्वे कर जमीन का सर्वे किया जा रहा है। कुछ लोग तकनीक को बड़े लोगों की चीज समझते हैं, मोदी इसे गरीबों के लिए प्रयोग में लाता है। इससे दो फायदे हैं-पहला संपत्ति का मालिकाना हक और दूसरा बैंक से कर्ज लेने में आसानी होगी। एनडीए की सरकार बनने के बाद इस योजना को यहां भी लागू किया जाएगा। गरीब की परेशानी को समझने वाले ही उनके लिए काम करते हैं। गरीबों का हक मारकर अपने और अपने रिश्तेदारों के लिए महल बनाने वाले गरीबों का दर्द नहीं समझते हैं। कोसी-सीमांचल सहित बिहार का एक बड़ा हिस्सा साफ पानी की कमी और बाढ़ का सामना कर रहा है।

11:45 बजे: आज कांग्रेस की हालत यह है कि लोकसभा और राज्यसभा, दोनों को मिला दें तो भी कांग्रेस के पास 100 सांसद नहीं पूरे होंगे। जनता ने उनका यह हाल कर दिया है। इस देश के कई राज्य ऐसे हैं, जिन राज्यों ने कांग्रेस के एक भी बंदे को लोकसभा-राज्यसभा नहीं पहुंचने दिया। गुजरात, उत्तराखंड आदि ऐसे ही राज्य हैं। यूपी-बिहार जैसे राज्यों में आज कांग्रेस तीसरे, चौथे और पांचवें स्थान पर किसी का कुर्ता पकड़कर बचने की कोशिश कर रही है। ऐसा इस कारण हो रहा है कि इन्होंने जनता के साथ विश्वासघात किया है।

11:44 बजे:  बिहार में कहा जाता है-अनकर धन पाई, तो नौ मन तोलाई। स्वार्थ का भाव यह है कि जब दूसरे का पैसा है तो जितना चाहे लूटो। ये लोग जनता के लिए काम नहीं कर रहे हैं। आज बिहार की जनता, देश की जनता इन सब लोगों की सच्चाई जान चुकी है। ऐसे ही झूठ बोल-बोलकर कांग्रेस ने देश के लोगों को क्या-क्या सपना नहीं दिखाया। दशकों पहले से ये लोग गरीबी हटाने की बात करते थे। चुनाव आते ही किसानों का लोन माफ करने, वन रैंक पेंशन फौजियों के लिए लागू करने की बात करते हैं। इतिहास गवाह है कि इन्होंने काम नहीं किया। जनता को लंबे अर्से मूर्ख नहीं बनाया जा सकता है।

11:42 बजे: अररिया के दो लाख किसान इससे लाभान्वित हो रहे हैं। अररिया में साढ़े तीन लाख महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन दिए गए। बिहार में सवा करोड़ से अधिक, अररिया में चार लाख से अधिक शौचालय मिले हैं। बिहार के हर गरीब को आयुष्मान योजना के तहत पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दी गई है। यदि किसी गरीब के घर में बीमारी आ जाती है तो उसकी स्थिति अधिक दयनीय हो जाती है। इस कारण यदि कोई गरीब अब बीमार हुआ तो उसका बेटा दिल्ली में बैठकर उसकी चिंता करेगा। मेरा गरीब अब दवा, डॉक्टर और अस्पताल के बिना जिंदगी और मौत के बीच नहीं जूझेगा। बिहार उन लोगों को पहचान चुका है, जो डराकर, अफवाह फैलाकर सत्ता हासिल करना चाहते हैं। इन्होंने यही सीखा है।

11:38 बजे:  नीतीश कुमार की पूरी टीम ने जी-जान लगाकर बिहार के लोगों की आवश्यकताओं को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। विपरीत स्थितियों में वे रुके नहीं, मान-अपमान में डटे रहे। आपकी आवश्यकताओं को पूरा करना नीतीश कुमार की टीम का लक्ष्य था और उसे उन्होंने पूरा कर दिखाया। 2020-2021 बिहार की आकांक्षाओं को पूरा करने का दशक है। बीते दशक में बिहार में हर घर में बिजली पहुंची, इस दशक में बिहार में 24 घंटे बिजली मिलेगी। पिछले दशक में हर घर में गैस सिलेंडर पहुंचा तो इस दशक में हर घर में पाइप से गैस पहुंची। बीते दशक में जंगलराज को खत्म किया गया। यह दशक बिहार की नई संभावनाओं का है। बिहार को फिर डबल्र इंजन का शासन मिलेगा तो यहां का विकास तेज गति होगा। सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र पर एनडीए की सरकार बिना किसी भेदभाव के लोगों के हितों के लिए काम कर रही है। बिहार के 72-74 लाख किसानों के खातों में बिना किसी भेदभाव के सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा रहे हैं।

11:34 बजे:  आज बिहार में परिवारवाद हार रहा है और जनतंत्र जीत रहा है। रंगबाजी और रंगदारी हार रही है, विकास जीत रहा है। घोटाला हार रहा है, लोगों का श्रम जीत रहा है। आज बिहार में गुंडागर्दी हार रही है और कानून का राज लानेे वाले जीत रहे हैं। बिहार के गरीबों से इन लोगों ने वोट देने का अधिकार तक छीनकर रखा। गरीबों को घरों में कैद कर जंगलराज वाले उनके बदले खुद वोट देते थे। तब वोट छीन लिया जाता था। गरीबों को सही मायने में मतदान का हक एनडीए ने दिया। गरीब, दलित, पिछड़ा, अतिपिछड़ा हो, किसी भी मत को मानने वाला हो, उसे अपनी पसंद के उम्मीदवार को चुनने का हक मिला। बिहार में माहौल यह है कि महिलाएं कह रही हैं कि घरवालों को जो करना हो, करें, मैं मोदी के साथ रहूंगी। हर मां-बेटी हमारी सहायता कर रही है।

11:30 बजे: मानव जाति को जिस धरती ने लोकतंत्र दिया था, उस धरती को मैं अभिनंदन करता हूं। सुरक्षाबलों की निष्ठा की भी मैं सराहना करता हूं। चुनाव प्रक्रिया में जुड़े सभी कर्मियों का भी अभिनंदन किया। पहले चरण के मतदान के बाद और शुरुआती जानकारी के अनुसार यह बात साफ है कि बिहार की जनता ने एनडीए की सरकार का डंके की चोट पर संकेत दे दिया है। बिहार के लोगों ने ठान लिया है कि इस नए दशक में बिहार को नई ऊंचाई पर पहुंचाएंगे। बिहार के लोगों ने जंगल राज को, डबल युवराजों को सीने से नकार दिया है। बिहार में एक कहावत है-सब कुछ खैनी, दूगो भंजा नैय चबैनी। यानी भर पेट भोजन करने के बाद भी खाने वाली की नजर भूंजा पर है। एनडीए के विरोध में जो खड़े हैं, वे इतना कुछ खाने के बदा बिहार को लालच भरी नजरों से देख रहे हैं। बिहार की जनता जानती है कि कौन कितना विकास कर सकता है।

11:25 बजे: चुनाव लोकतंत्र का उत्सव होता है और इसके बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना हर नागरिक का कर्तव्य है और उज्जवल भविष्य की गारंटी। आज बिहार के लोगों ने देश ही नहीं, पूरे विश्व को एक संदेश दिया है। कोरोना के इस संकटकाल में जब दुनिया में हड़कंप मचा है, तब बिहार के लोग अपने घरों ने निकलकर बड़ी संख्या में मतदान कर रहे हैं। लोकतंत्र के प्रति हर बिहारी का इतना बड़ा समर्थन महत्वपूर्ण है। जलीत-हार महत्वपूर्ण नहीं है। विश्व के लोग इस विषय में सोच रहे हैं। इस चुनाव को कराने के लिए चुनाव आयोग को बधाई देता हूं।

11:20 बजे: कोरोना संकट के बीच बिहार ने दिया बड़ा संदेश। दुनिया में हड़कम्‍प मचा है। दूसरी तरफ बिहार के लाेग घरों से निकल कर मतदान कर रहे हैं। यहां के लोगों के जेहन में लोकतत्र कितनी गहराई से बैठा हुआ है, यह पूरी दुनिया के लिए बड़ा संदेश है। विश्‍व के लोगों को सोचना होगा कि बिहार के लोग लोकतंत्र में विश्‍वास करते हैं। इसी धरती ने मानव जाति को लोकतंत्र दिया था।

11:20 बजे: पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए सबसे पहले बाबा मदनेश्वर, बाबा सुंदरनाथ की भूमि को नमन किया। कथाशिल्पी फणीश्वरनाथ रेणु की भूमि पर अपने सब के अभिनंदन करै छी। अररिया के साथ-साथ पूर्णिया, किशनगंज और कटिहार सहित अनेक जिलों के लोग आज यहां मौजूद हैं। इससे भी अधिक लोग अलग-अलग स्थान पर ऑनलाइन जुड़े हुए हैं। बिहार में आज दूसरे चरण का मतदान चल रहा है। जहां-जहां मतदान हो रहा है, मैं हेलीकॉप्टर से आ रहा था तो किसी ने बताया कि पहले के चुनावों से ज्यादा मतदान आज 10 बजे तक हुआ है। बिहार के मतदाताओं की लोकतंत्र के प्रति श्रद्धा का अभिनंदन करता हूं।

11:20 बजे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सवा 11 बजे मंच पर पहुंचे। उन्‍होंने स्‍थानीय भाषा में सभी का अभिवादन किया। वे चुनावी सभा को संबोधित करेंगे।

10:30 बजे: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वहां सुबह साढ़े नौ बजे पहुंचने की सभावना थी। लेकिन अभी तक वे वहां नहीं पहुंचे हैं। इस बीच सुबह से ही प्रधानमंत्री को सुनने के लिए भारी संख्‍या में लोग वहां पहुंचे। सभा स्‍थल पर पूरी तैयारी की गई है। सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News