Cover
ब्रेकिंग
Rhea Chakraborty के भाई शौविक चक्रवर्ती को लगभग 3 महीने बाद मिली ज़मानत, ड्रग्स केस में हुई थी गिरफ़्तारी कांग्रेस का आरोप, केंद्र सरकार ने बैठक कर किसानों की आंखों में झोंकी धूल मुंबई: यूपी फिल्म सिटी निर्माण पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- हम यहां कुछ लेने नहीं, नया बनाने आए कर्नाटक में जनवरी-फरवरी में कोविड-19 की दूसरी लहर की आशंका, लोगों में डर का माहौल दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सख्त NGT, क्रिसमस-नए साल पर पटाखे नहीं चला पाएंगे लोग जाधव के लिए वकील नियुक्ति मामले पर विस्तार से चर्चा की सलाह, अहलूवालिया रखेंगे भारत का पक्ष पीड़िता बोली- ससुर करता था अश्लील हरकतें, 2 महीने की बच्ची पर भी तरस नहीं किया, दे दिया तीन तलाक भगवान को ठंड से बचाने के लिए भक्तों ने ओढ़ाए गर्म वस्त्र भूमाफिया बब्बू और छब्बू पर चला प्रशासन का डंडा, अवैध निर्माण जमींदोज दर्दनाक हादसे का सुखद अंत: 3 लोगों समेत अनियंत्रित बोलेरो गहरी नदी में समाई

मौका मिला तो सिपाही भर्ती में नहीं होगी लिखित परीक्षा :पप्पू यादव

बेतिया। जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि हमारी लड़ाई घर घर की आजादी के लिए है। यदि आपने मौका दिया तो सिपाही भर्ती के लिए लिखित परीक्षा नहीं होगी। शारीरिक परीक्षा में उत्तीर्ण होकर प्रमाण पत्र जमा कराते हुए युवा नौकरी लेंगे। उन्होंने नरकटियागंज रेलवे मध्य विद्यालय प्रांगण में विधानसभा प्रत्याशी अफसर इमाम के समर्थन में सभा के दौरान वोट मांगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि यदि आपने मौका दिया तो विभिन्न प्रकार के रोजगार के लिए बेरोजगारों को बिना ब्याज के तीन साल तक के लिए 2 लाख मिलेगा। इससे रोजगार को स्थापित किया जा सकेगा। कहा कि 70 साल बाद भी बिहार भूखा प्रदेश से है। इसकी चर्चा प्रधानमंत्री नहीं करते। मजदूर एक्ट समाप्त कर दिया। अध्यक्ष ने कहा कि पटना में बाढ़ आया तो नीतीश कुमार घर से नहीं निकले। युवराज लोगों को भी देखा। मैं अकेला सभी जगह लोगों के साथ मुश्किल परिस्थिति में खड़ा रहा । उन्होंने कहा कि मैं पहले से नरकटियागंज आता रहा हूं। उस समय कास्ट, कैैश, क्राइम हुआ करता था। पिछले 30 सालों से सत्ता में रहे लोगों ने अपने अपने स्तर से राज्य को पीछे धकेलने का काम किया। भूख के मामले में बिहार का पहला स्थान है। बिहार की शिक्षा सबसे पिछले पायदान पर खड़ी है। लॉकडाउन में मैंने हजारों मजदूरों और छात्रों को बाहर से राज्य में मंगवाया, जिसके लिए मुख्यमंत्री ने हाथ खड़ा कर दिया था। मौके पर डॉ आफताब आलम, मौलाना अमीरुद्दीन आदि उपस्थित रहे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News