गुजरात को PM मोदी की कई सौगातें, आरोग्य वन, एकता मॉल और बच्चों के लिए न्यूट्रिशन पार्क का उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के नर्मदा जिले के केवडिया में ‘‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी” के निकट नवनिर्मित आरोग्य वन, एकता मॉल और बच्चों के लिए पोषक पार्क का उद्घाटन किया। आरोगय वन में 15 एकड़ में औषधीय गुणों से युक्त पौधे लगाए गए हैं। इसमें 380 प्रजाति के पांच लाख पेड़ हैं। योग व आयुर्वेद को ध्यान में रखते हुए इसका विकास किया गया। दो दिवसीय दौरे पर आज गुजरात पहुंचे प्रधानमंत्री ने पहले गांधीनगर में गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल और गुजराती सिनेमा के सुपरस्टार नरेश कनोडिया व उनके संगीतकार भाई महेश कनोडिया को श्रद्धांजलि अर्पित की। यहां से प्रधानमंत्री केवडिया पहुंचे और आरोग्य वन का लोकार्पण किया। उन्होंने राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के साथ इसका अवलोकन भी किया।

प्रधानमंत्री ने एकता मॉल का भी उद्घाटन किया। इस मॉल में भारत की मौजूदा हस्तकलाओं और पारंपरिक उत्पादों का प्रदर्शन किया गया है। यहां पर पूरे देश से आए उत्पाद प्रदर्शित किए गए हैं। एक आधिकारिक बयान के मुताबिक उसका उद्देश्य एकता का संदेश देना है। यह मॉल 35 हजार वर्गफुट में फैला हुआ है। मॉल में 20 एम्पोरियम हैं, जो प्रत्येक राज्य का प्रतिनिधत्व करते हैं। एकता मॉल को केवल 110 दिनों में निर्मित किया गया है। प्रधानमंत्री ने बच्चों के लिए पोषक पार्क का भी उद्घाटन किया। उन्होंने पार्क का भ्रमण किया और बच्चों को आकर्षित करने वाली विभिन्न सुविधाओं का अवलोकन किया। यह दुनिया का पहला प्रौद्योगिकी आधारित पार्क है जो 35 हजार वर्गफुट में फैला हुआ है। पार्क में एक न्यूट्री ट्रेन की भी व्यवस्था है, जिसके स्टेशन के नाम भी काफी रोचक रखे गए हैं।जिनके फलशाखा गृहम, पायोनागिरी, अन्नपूर्णा, पोषण पुराण, स्वस्थ भारत नाम दिए गए हैं।

प्रधानमंत्री ने न्यूट्री ट्रेन की सवारी करते हुए विभिन्न स्टेशनों का मुआयना किया। इस पार्क का उद्देश्य विभिन्न गतिविधियों के जरिए पोषक भोजन के प्रति जागरूकता फैलाना है। पार्क में इसके लिए मिरर मेज, 5डी वर्चुअल रियल्टी थिएटर और ऑगमेंटेंड रियल्टी गेम की भी व्यवस्था की गई है। मार्च में कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से मोदी का अपने गृह राज्य गुजरात का यह पहला दौरा है। इस दौरान वह केवडिया और अहमदाबाद के बीच समुद्री विमान सेवा की शुरुआत भी करेंगे। वह सरदार पटेल जुओलॉजिकल पार्क ‘जंगल सफारी’ का उद्घाटन करेंगे, जो भारत के ‘लौह पुरुष’ की 182 मीटर लंबी प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास स्थित है। मोदी अपनी यात्रा के दौरान स्वतंत्र भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को 31 अक्टूबर को उनकी जयंती के दिन ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ जाकर श्रद्धांजलि भी अर्पित करेंगे।

इन परियोजनाओं का करेंगे उद्धाटन

  • वे स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के निकट बनाई गई जेट्टी से श्रेष्ठ भारत भवन के पास स्थित जेट्टी तक 40 मिनट की राइड में बैठने से पहले 9 अन्य परियोजनाओं का भी लोकार्पण करेंगे। इनमे जेट्टी और बोटिंग (एकता क्रूज), नेविगेशन चैनल, नया गोरा ब्रिज, गरुड़ेश्वर वीयर, एकता नर्सरी, खलवाणी ईको टूरिज्म, सरकारी कॉलोनियां, बस टर्मिनस तथा होम स्टे सम्मिलित हैं।
  • प्रधानमंत्री स्टेच्यू ऑफ यूनिटी एरिया डेवलपमेंट एंड टूरिज्म गवर्नेंस अथॉरिटी के प्रशासनिक भवन, सरकारी कॉलोनियों, एसआरपी क्वाटर्र्स तथा केवड़िया के आसपास के पांच गांवों के प्रभावितों को बसाने के लिए सभी मूलभूत सुविधा युक्त 400 मकान वाली आदर्श ग्राम कॉलोनी सहित 4 नयी परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे।
  • ऑफ यूनिटी के आसपास के लगभग 25 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में एक अरब लाइट से स्थायी रूप से सुसज्जित की गई डेकोरेटिव लाइटिंग तथा सरदार सरोवर डैम की खास डिजाइन की गई डेकोरेटिव लाइटिंग का भी प्रधानमंत्री उद्घाटन करेंगे।
  • प्रधानमंत्री देश के पहले सी-प्लेन के जरिए केवड़िया से अहमदाबाद प्रस्थान करने के लिए तालाब नं. 3 के वाटर ड्रोम का उद्घाटन सरदार पटेल की जयंती पर करेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News