Cover
ब्रेकिंग
बुलेट ट्रेन के 72 फीसदी ठेके भारतीय कंपनियों को दिए जाएंगे : रेलवे पीएम मोदी ने निवार से हुए नुकसान का लिया जायजा, मृतकों के परिजनों को दो लाख रुपये की आर्थिक मदद का किया एलान Ind vs Aus: हार्दिक पांड्या ने किया साफ, अभी नहीं करेंगे गेंदबाजी, टीम इंडिया तैयार करे ऑलराउंडर अमेरिका ने 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड साजिद मीर पर 50 लाख डॉलर के ईनाम की घोषणा की कश्मीर में असल लोकतंत्र का आगाज: विरोध को दरकिनार कर जनता डीडीसी चुनावों में चुनेगी प्रतिनिधि जम्मू-कश्मीर में आज बदलेगा इतिहास, मतदान के लिए कड़ी सुरक्षा के साथ कोरोना से बचाव के भी पुख्ता बंदोबस्‍त ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की आतंकवादियों ने की निर्मम हत्या Bihar Politics सुशील मोदी को भाजपा ने बनाया राज्यसभा प्रत्याशी, लोजपा की नजर भी टिकी थी ब्रिटिश पीएम ने दी लॉकडाउन की चेतावनी, कहा- पाबंदियों में ढील दी गई तो महामारी हो जाएगी बेकाबू वैक्सीन की तैयारियों का आज जायजा लेंगे पीएम मोदी, टीका तैयार कर रही तीन कंपनियों के प्लांटों का करेंगे दौरा

दुनिया में 4 करोड़ कोरोना संक्रमितः रूस ने बना ली तीसरी वैक्सीन, भारत में भी टीकाकरण की तैयारी

दुनिया में लगभग 4 करोड़ लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। शुक्रवार को विश्व के कोरोना आंकड़ों में 40 हजार की वृद्धि देखी गई, जिसने एक दिन में बढ़ने वाले सबसे ज्यादा मामलों का रिकॉर्ड बना लिया। अमेरिका कोरोना वायरस के 80 लाख मामले  हैं। दूसरी ओर यूरोप में इटली और जर्मनी से लेकर पुर्तगाल तक कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए, जिसके कारण कुछ देशों को फिर से लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर होना पड़ा। कोरोना वायर की रोकथाम के लिए जहां कई देशों में अभी भी वैक्सीन बनाने की होड़ चल रही है वहीं रूस ने इसकी तीसरी वैक्सीन भी तैयार कर ली है।

रूस कोरोना वायरस का टीका बनाने वाला पहला देश है। रूस ने 2 अगस्त को दुनिया की पहली वैक्सीन स्पुतनिक-वी (Sputnik-V) को मंजूरी दी थी।   14 अक्तूबर को रूस ने दूसरी कोरोना वैक्सीन एपिवैककोरोना (EpiVacCorona)  को तीसरे ट्रॉयल के बाद मार्केट में उतार दिया था । इसी बीच खबरें आ रही हैं कि रूस ने कोरोना की तीसरी वैक्सीन भी तैयार कर ली है।

तीसरी रूसी कोरोना वैक्सीन को दिसंबर तक मिलेगी मंजूरी
खबरों के मुताबिक, चुमाकोव सेंटर ऑफ रशियन एकेडमी ऑफ साइंसेज में रूस की तीसरी कोरोना वैक्सीन बनाई जा रही है, जिसे दिसंबर 2020 तक मंजूरी दी जा सकती है। फिलहाल पहले ट्रॉयल में 15 वॉलंटियर्स को यह वैक्सीन दी जा चुकी है, जिसमें किसी तरह की गंभीर साइड-इफैक्ट्स देखने को नहीं मिले। उम्मीद है कि वैक्सीन का तीसरा ट्रॉयल दिसंबर तक पूरा हो जाएगा।

दूसरी वैक्सीन का ट्रायल सफल 
रूस का दावा है कि उनकी दूसरी वैक्सीन एपिवैककोरोना (EpiVacCorona) का तीसरी ट्रॉयल भी सफल रहा। इस वैक्सीन का ट्रॉयल 100 वॉलंटियर्स पर किया था, जिसमें कोई साइड-इफैक्ट सामने ना आने के बाद इसे मंजूरी दे दी गई। खबरों के मुताबिक, रूस के उप प्रधानमंत्री ततयाना गोलिकोवा ने भी दूसरी वैक्सीन ली थी। अब देशभर से 40 हजार लोगों को एपिवैककोरोना वैक्सीन के अगले चरण के ट्रायल के लिए चुना जाएगा।

भारत में भी जल्द उपलब्ध होगी वैक्सीन
रूस के बाद भारत, अमेरिका, ब्रिटेन में भी कोरोना वैक्सीन का आखिर ट्रायल चल रहा है, जिसके रिजल्ट काफी पॉजिटिव मिले है। सफलता मिलने के बाद ही भारत में टीकाकरण अभियान शुरू किया जा सकेगा।  विशेषज्ञ समिति ने केंद्रीय एजेंसियों और राज्यों से इनपुट्स लेकर टीकाकरण का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है, जिसमें बताया गया है कि पहले किन लोगों को टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाएगी। ड्राफ्ट के मुताबिक, टीकाकरण अभियान के पहले चरण में देश की 23% आबादी को शामिल किया जाएगा जिसमें  वैक्सीन के लिए प्राथमिकता सूची में चार कैटेगरी हैं

  • करीब 50 से 70 लाख हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स
  • दो करोड़ से ज्यादा फ्रंटलाइन वर्कर्स
  • 50 साल से ज्यादा उम्र वाले करीब 26 करोड़ लोग
  •  50 साल से कम उम्र के लोग जो किसी बीमारी से ग्रस्त हैं

गौरतलब है कि यूरोप में इटली और जर्मनी से लेकर पुर्तगाल तक कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए, जिसके कारण कुछ देशों को फिर से लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर होना पड़ा।  लंदन के रहने वाले लोगों को दूसरे लोगों के घर आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया जाएगा और पेरिस और आठ अन्य प्रमुख फ्रांसीसी शहरों के निवासियों को चार सप्ताह के लिए सुबह 6 बजे से लेकर रात के 9 बजे तक अपने घरों में रहने के लिए सीमित कर दिया जाएगा। स्पेन ने 6,591 मामले दर्ज किए और इटली ने रिकॉर्ड 10,010 मामले दर्ज किए  जबकि बेल्जियम सोमवार से चार सप्ताह के लिए रेस्तरां बंद कर देगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News