Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

हिमाचल में बनी नौ किमी लंबी अटल सुरंग से गायब है सोनिया गांधी के नाम की पट्टिका

भोपाल। हिमाचल प्रदेश में बनी नौ किलोमीटर से भी लंबी अटल सुरंग से कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नाम की पट्टिका गायब है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस नेताओं के आरोप के हवाले से कही।

सोनिया ने अटल सुरंग की आधारशिला 2010 को रखी थी

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीन अक्टूबर को सुरंग के उद्घाटन से पहले यह पट्टिका गायब हुई है। एक रिपोर्ट के हवाले से उन्होंने बताया कि 28 जून 2010 को इस सुरंग की आधारशिला रखी गई थी।

मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव में शारदीय नवरात्र का संयोग

मध्य प्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों के उपचुनाव और शारदीय नवरात्र का संयोग इस बार धार्मिक रूप से बहुत विशेष होने जा रहा है। मतदाताओं का आशीर्वाद पाने के लिए अब देवी को मनाने दीप प्रज्ज्वलन से लेकर अनुष्ठान का बोलबाला रहेगा। कोरोना काल में जनता से सीधा संपर्क थोड़ा मुश्किल है ऐसे में ‘मैया’ ही प्रत्याशियों की नैया पार लगाएंगी।

प्रत्याशियों के लिए पूजा-पाठ का स्वर्णिम अवसर

चुनावी मौसम में नवरात्र का संयोग प्रत्याशियों के लिए पूजा-पाठ का स्वर्णिम अवसर सिद्ध हो सकता है इसलिए वे अपनी जीत के लिए आगर-मालवा के नलखेड़ा स्थित मां बगलामुखी धाम और दतिया स्थित पीतांबरा पीठ सहित कई गुा तांत्रिक स्थानों पर अर्जी भी लगा चुके हैं।

गोपनीय स्थानों पर अनुष्ठान

उम्मीदवारों ने नवरात्र के पहले दिन शनिवार से जीत के संकल्प के साथ अनुष्ठान की शुरुआत के लिए पंडितों को भी पाबंद कर दिया है। हालांकि मंदिरों में प्रत्याशी के नाम की सिर्फ ज्योति सेवा होगी। अनुष्ठान गोपनीय स्थानों पर किए जाएंगे। त्रिशक्ति माता बगलामुखी ‘शत्रुनाशक’ देवी मानी जाती हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News