Cover
ब्रेकिंग
अमेरिका में 24 घंटे में कोरोना से दो हजार से ज्यादा मौतें, लगभग सभी राज्यों में बढ़े मामले ईरान पर और प्रतिबंध लगा सकते हैं ट्रंप, बाइडन को भी इसी राह पर चलने की सलाह OTT कंटेंट की सेंसरशिप के ख़िलाफ़ शत्रुघ्न सिन्हा, बोले- 'हर्ट सेंटिमेंट्स के नाम पर सेंसरशिप मज़ाक' Drug Case में भारती सिंह का नाम आने के बाद कपिल शर्मा हुए ट्रोल, यूजर ने कहा- वही हाल आपका है... हड़ताल के चलते सरकारी बैंकों में कामकाज आंशिक रूप से हुआ प्रभावित, इन बैंकों पर नहीं पड़ा असर Google आपके एंड्राइड स्मार्टफोन की हर हरकत पर रखता है नजर, जानिए कैसे करें इसे ब्लॉक, ये है स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस आरोन फिंच ने कोहली को बताया वनडे का सर्वकालिक महान खिलाड़ी, लेकिन दिमाग में है ये बात Ind vs Aus: 'रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में शिखर धवन का बेस्ट ओपनिंग पार्टनर हो सकता है ये बल्लेबाज' किसानों के समर्थन में उतरे केजरीवाल, बोले- अन्नदाताओं पर जुर्म बिल्कुल गलत MP के गृहमंत्री बोले- कांग्रेस नहीं चाहती कि उनके खानदान से ऊपर किसी का नाम हो इसलिए...

मुजफ्फरपुर की बोचहां सीट से इस बार भी निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरेंगी विधायक बेबी कुमारी, जानिए भाजपा से मिले अपमान पर क्या कहा ?

मुजफ्फरपुर।  बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar Assembly Elections 2020 ) के दौरान मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) की धरती पर वर्ष 2015 की घटना दोहराई गई। जी हां, बोचहां (Bochhan) सुरक्षित सीट की वर्तमान विधायक बेबी कुमारी (Baby Kumari ) के साथ इस बार भी कुछ वैसा ही हुआ जैसा पिछली बार हुआ। उस बार लोजपा (LJP) ने किया और इस बार कुछ उसी भूमिका में वीआइपी (VIP) दिखी। इसके बाद बेबी कुमारी ने फिर से निर्दलीय ही चुनाव के मैदान में उतरने की घोषणा कर दी हैं। उन्होंने अपनी फेसबुक (Facebook) पोस्ट के माध्यम से यह जानकारी साझा की है कि वह 19 अक्टूबर को अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी।

इस पोस्ट में उन्होंने पिछली बार की घटना और इसके बाद भी उनका भाजपा (BJP) पर भरोसा करने का जिक्र किया है। लिखती हैं- आपलोगों के स्नेह एवं समर्थन से मैं पिछली बार 25000 मतों से जीतकर निर्दलीय विधायक बनी थी। मैंने भाजपा पर विश्वास करके उसको अपना समर्थन दिया। परंतु, पार्टी ने 2015 की तरह ही हम सभी का अपमान करते हुए टिकट से वंचित कर दिया। यह सिर्फ मेरा नहीं बल्कि यह अपमान आपकी बेटी, आपकी बहू और विधानसभा की समस्त जनता का है। मैंने अपने कार्यकाल के दौरान आपके साथ एवं अपने संघर्ष के बल पर हरसंभव कार्य किए। आपलोगों का स्नेह एवं समर्थन मुझे हमेशा प्राप्त होते रहा है। समस्त जनता एवं कार्यकर्ताओं के दम पर मैं 19 अक्टूबर को आपकी प्रतिष्ठा बचाने हेतू अपना नामांकन कर रही हूं। आशा एवं पूर्ण विश्वास है आपलोगों का स्नेह एवं समर्थन मुझे प्राप्त होता रहेगा।

इससे साफ झलकता है कि भाजपा नेतृत्व की ओर से किए गए व्यवहार से वह आहत हैं। उन्होंने इसे अपना अपमान माना है। इसे उन्होंने बोचहां क्षेत्र की जनता से जोड़ते हुए पूरे क्षेत्र का अपमान करार दिया है। इस तरह एक भावुक अपील के माध्यम से उन्होंने मतदाताओं से समर्थन करने का आह्वान किया है। हालांकि आज उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया है। आशा की जा रही है कि इसमें वह विस्तार से अपनी भावी रणनीति की जानकारी देंगी। वीआइपी से बात होनें और बिगड़ने के बारे में भी सवाल पूछा जा सकता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News