Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

कुपवाड़ा में पाकिस्तानी बैट हमला नाकाम, जान बचाकर भागे PAK कमांडो और आतंकी

श्रीनगर : उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा के साथ सटे टंगडार (कुपवाड़ा) सेक्टर में भारतीय सेना के जवानों ने बुधवार को पाकिस्तानी सेना के बैट हमले को नाकाम कर दिया। इस दस्ते में पाकिस्तानी सेना के कमांडो और आतंकी थे। भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में वह जान बचाकर वापस भाग गए। सेना ने टंगडार सेक्टर के अग्रिम इलाकों में तलाशी अभियान चला रखा है।

सुरक्षाबलों की कार्रवाई से कश्मीर में आतंकी कैडर लगातार खत्म हो रहा है। आतंकियों की घुसपैठ पर भी पूरी तरह नकेल है। इससे पाकिस्तानी सेना हताश है। इसीलिए उसने बुधवार को टंगडार सेक्टर में बैट हमले का प्रयास किया। बैट दस्ता भारतीय सेना की उस अग्रिम चौकी पर हमला करने की फिराक में था जो आतंकियों द्वारा घुसपैठ के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले एक रास्ते विशेष पर बनी है। इस चौकी के कारण आतंकियों की घुसपैठ बंद है। इस चौकी पर तैनात जवानों की फाय¨रग रेंज में पाकिस्तान की कई अग्रिम निगरानी चौकियां भी आती हैं।

सैन्य प्रवक्ता के अनुसार, बैट दस्ते में पाकिस्तानी सेना के चार से पांच कमांडो और आतंकी शामिल थे। यह तड़के करीब चार बजे एलओसी के पास पहुंच गया। यह दस्ता भारतीय सेना की अग्रिम चौकी से महज 70-80 मीटर की दूरी पर था। इसी दौरान भारतीय जवानों को पता चल गया। इसके बाद जवानों ने मोर्चा संभाल लिया। जैसे ही बैट दस्ता कुछ और आगे बढ़ा, तो जवानों ने फायरिंग कर दी। बैट दस्ते ने भी फायर किया, लेकिन कुछ ही देर में बैट दस्ते के पांव उखड़े गए और जान बचाता हुआ भाग गया।

हो सकता है कुछ मारे या घायल हुए हों:

अधिकारियों के अनुसार, हो सकता है कि बैट दस्ते के कुछ सदस्य जख्मी या मारे गए हों और उनके साथ उन्हें उठा ले गए हों। इस घटना के बाद पूरे टंगडार सेक्टर मे सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। एहतियात के तौर पर एलओसी के साथ सटे इलाकों में तलाशी अभियान भी चलाया जा रहा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News