Cover
ब्रेकिंग
ओवैसी के गढ़ में गरजे अमित शाह, बाेले- हैदराबाद का अगला मेयर बीजेपी का होगा मुंबईः उर्मिला मातोंडकर की राजनीति में फिर से एंट्री, कल शिवसेना में होंगी शामिल देव दीपावली: कल वाराणसी जाएंगे PM मोदी, गंगा के किनारे जलाए जाएंगे 11 लाख दीये महबूबा मुफ्ती का बड़ा आरोप, कहा- मोदी सरकार करना चाहती है पूरे मुल्क के टुकड़े Indian Idol 12 होस्ट आदित्य नारायण की शादी की रस्में शुरू, तिलक सेरेमनी का वीडियो आया सामने तेजस्‍वी का CM नीतीश पर तंज- बिहार में अपराधियों की बहार, जनता डरी तो बेबस बनी सरकार उत्तर भारत में सर्दी का सितम जारी, दिल्ली में 10 साल में सबसे अधिक ठंड मन की बात में बोले पीएम मोदी- नए कृषि कानून से किसानों को मिले नए अधिकार, नए अवसर शांति वार्ता से जुड़े दोनों पक्षों ने 21 मुद्दों पर अपनी सहमति जताई, राष्‍ट्रपति भवन ने कहा गतिरोध बरकरार हैदराबाद में अमित शाह का रोड शो, भारी संख्या में जुटे लोग

Rahul Gandhi Hathras March: पीड़िता के घरवालों से मिले राहुल-प्रियंका, कहा- अन्‍याय के खिलाफ लड़ेंगे

नई दिल्‍ली। पूर्व कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी 35 सांसदों के साथ यूपी की हाथरस पीड़िता के परिवार से मिलने के लिए दिल्‍ली से निकल कर हाथरस पहुंचे।  कड़ी सुरक्षा और काफी शोर शराबे के बीच दोनों नेता वहां पहुंचे। प्रियंका गांधी और राहुल सहित पांच नेता सभी पीड़िता के घर उनसे हाल चाल पूछा।  इस दौरान यहां काफी कड़ी सुरक्षा थी। यूपी पुलिस चप्‍पे-चप्‍पे पर खड़ी थी। इधर, पीड़िता के परिवार से बंद कमरे में एक घंटे तक बातचीत हुई। मिलने के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि हम अन्‍याय के खिलाफ लड़ेंगे। बता दें कि इससे पहले डीएनडी पर काफी देर यूपी पुलिस ने इन्‍हें रोकने के लिए कोशिश में लगी रही। हालांकि लगातार कार्यकर्ताओं के हंगामे के बीच सरकार ने पांच लोगों को जाने की अनुमति दी। वहीं, डीएनडी प्‍लाइओवर इस दौरान जाम से कराह उठा।

Hathras case: 

किन-किन नेताओं को मिली जाने की अनुमति

  1. राहुल गांधी
  2. प्रियंका गांधी
  3. अधीर रंजन चौधरी
  4. गुलाम नबी आजाद
  5. केसी वेणुगोपाल

 

दिन भर इस तरह रहा पूरा घटनाक्रम

  • पांच नेताओं के नाम तय किए गए हैं। पांचों नेता हाथरस की पीड़िता के परिवार से मिलने गए। हालांकि अन्‍य कांग्रेसी कार्यकर्ता भी साथ जाने देने की मांग कर रहे थे।
  • डीएनडी पर राहुल और प्रियंका सहित सांसदों के काफिलों को यूपी पुलिस के द्वारा रोके जाने पर कांग्रेसी हंगामा किया। लगातार नारेबाजी हुुई। एडिशनल सीपी लव कुमार भी कांग्रेस नेताओं से बात करने की कोशिश की। बता दें कि हंगामा-प्रदर्शन के कारण टोल प्‍लाजा से यमुना तक जाम लग गया। मार्ग पर डायवर्जन करना पड़ा लोग जाम से परेशान रहे।
  • नेताओं और कार्यकर्ताओं की मौजूदगी के कारण पुलिस ने बॉर्डर को छावनी में तब्‍दील कर दिया गया था।नोएडा जोन के एसीपी और रणविजय सिंह को राहुल और प्रियंका गांधी के काफिले को वापस भेजने की जिम्मेदारी दी गई थी। वह लगातार दोनों को समझ रहे थे। बॉर्डर को पूरी तरह सील कर दिया गया था।
  • जाम में एक और एंबुलेंस फंस गई । इससे पहले भी एक एंबुलेंस जाम में फंसी थी जिसे किसी तरह पुलिसवालों ने निकलवा कर भेज दिया था।
  • इसके मद्देनजर नोएडा पुलिस का कहना है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को उत्तर प्रदेश की सीमा में नहीं घुसने दिया जाएगा। इसके तहत डीएनडी पर ही नोएडा में प्रवेश करने से रोक दिया जाएगा।
  • वहीं, राहुल और प्रियंका गांधी वाड्रा के हाथरस जाने के सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में डीएनडी पर कांग्रेस कार्यकर्ता जमा हो गए थे।  भीड़ इस कदर है कि कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News