Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

कांग्रेस अध्यक्ष ने कृषि कानूनों को बताया किसान विरोधी, प्रधानमंत्री पर साधा निशाना

नई दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi ) ने शुक्रवार को कृषि विधेयकों का मुद्दा उठाते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। एक वीडियो द्वारा जारी किए गए बयान में उन्होंने कहा, ‘ काला कानून लागू कर प्रधानमंत्री ने किसानों के साथ अन्याय किया है। आज जब हम महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती मना रहे हैं तब किसान विरोधी तीन कानूनों को लेकर देश के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। मेरा मानना है कि किसानों और कांग्रेस द्वारा विरोध प्रदर्शन सफल होगा और इसका परिणाम बेहतर होगा।’  उल्लेखनीय है कि संसद के मानसून सत्र में विपक्ष के विरोधों के बीच कृषि विधेयक को पारित किया गया और राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद यह कानून बन गया है।

सोनिया गांधी ने कहा कि भारत की आत्मा गांवों में रहती है और शास्त्रीजी ने प्रसिद्ध नारा ‘जय जवान जय किसान’ दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस की ओर से किसानों को समर्थन दिया जाएगा और पार्टी  इन नए कानूनों का विरोध करेगी।  उन्होंने कहा, कांग्रेस सरकार के दौरान बगैर किसानों या शेयरधारकों से संपर्क किए किसी तरह का कानून नहीं बनाया गया लेकिन  इस सरकार में पूंजीपतियों के लिए कई कानून बनाए गए हैं।’ सोनिया गांधी ने कहा कि किसानों के साथ मिलकर कांग्रेस तब तक इन कानूनों का विरोध करेगी जब तक ये रद नहीं हो जाते। इस क्रम में उन्होंने भूमि अधिग्रहण कानूनों का उदाहरण भी दिया।

उन्होंने सरकार पर कृषि उपज मंडी समिति को खत्म करने का आरोप लगाया। उन्होंने यह भी कहा कि महामारी के दौरान किसानों के कारण गरीबों को राशन मिला लेकिन ये सरकार यह सरकार जमाखोरों को आगे बढ़ाना चाहती है और किसानों को उनके खेत में ही क्षमिक बनने को मजबूर कर रही है। पार्टी शुक्रवार को देश में पारित कृषि कानूनों का विरोध कर रही है। 3 से 5 अक्टूबर तक पंजाब से राहुल गांधी ट्रैक्टर रैलियां निकालेंगे। इस विरोध प्रदर्शन रैली में पंजाब के सभी  मंत्री व कांग्रेस विधायक हिस्सा लेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News