Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

शेयर बाजार में गिरावट से छह दिन में निवेशकों के 11 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा स्वाहा

नई दिल्ली। शेयर बाजार में गिरावट से छह दिनों में निवेशकों के 11,31,815.5 लाख करोड़ रुपये स्वाहा हो गए हैं। छठे सत्र में गुरुवार को बीएसई सेंसेक्स 1,114.82 अंक या 2.96 फीसद गिरकर 36,553.60 अंक पर बंद हुआ। बीएसई-लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,48,76,217.22 करोड़ रुपये रहा, जो छह सत्रों में गिरकर 11,31,815.5 करोड़ रुपये पर आ गया। 16 सितंबर से 30 शेयरों वाला बीएसई बेंचमार्क इंडेक्स 2,749.25 अंक गिर गया है। गुरुवार के कारोबार में हिंदुस्तान यूनिलीवर को छोड़कर सेंसेक्स के सभी शेयर लाल निशान में बंद हुए।

सबसे ज्यादा गिरावट इंडसइंड बैंक में रहा, इसके शेयर 7.10 फीसद तक गिर गए, इसके बाद बजाज फाइनेंस, एमएंडएम, टेक महिंद्रा, टीसीएस और टाटा स्टील के शेयर रहे। बीएसई के स्मॉलकैप और मिडकैप सूचकांकों में 2.28 फीसद तक की गिरावट दर्ज की गई।

बीएसई में कुल 2,025 कंपनियों में गिरावट आई, जबकि 625 एडवांस और 162 में कोई बदलाव नहीं हुआ। बीएसई आईटी इंडेक्स में 4.45 फीसद की गिरावट के साथ सभी सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट रही और इसके बाद टेक, ऑटो, मेटल, रियल्टी, बेसिक मटीरियल, बैंक्स और फाइनेंस में गिरावट आई।

मालूम हो कि गुरुवार को BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक Sensex 1,114.82 अंक यानी 2.96% टूटकर 36553.60 अंक के स्तर पर बंद हुआ। इसी तरह NSE का Nifty 326.30 अंक यानी 2.93 फीसद लुढ़ककर 10805.55 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

कारोबारियों के मुताबिक, इकोनॉमिक रिकवरी को लेकर बढ़ती चिंताओं और केंद्रीय बैंकों द्वारा नए सिरे से प्रोत्साहन पैकेज नहीं दिए जाने से वैश्विक बाजारों में बिकवाली देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि दुनिया की कई अर्थव्यवस्थाओं में कोविड-19 के नए मामलों में तेजी की आशंका से भी निवेशकों के सेंटिमेंट पर असर पड़ रहा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News