Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

बैडरुम की दीवार पर लिखा- कमरे में घुस कर मारे हैं मुझे..और सगे भाई के परिवार को जिंदा जला दिया

अनूपपुर: मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले में एक बेहद सनसनीखेज वाला मामला सामने आया है। जहां एक युवक ने पारिवारिक विवाद के चलते अपने भाई-भाभी और दो बच्चों को जिंदा जला दिया। इसके बाद उसने खुद भी फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना रात्रि डेढ़ से 2 बजे के बीच की बताई जा रही है। पुलिस ने मामला दर्ज कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच शुरु कर दी है। पुलिस को घटनास्थल से दीवार पर लिखा सुसाइड नोट भी प्राप्त हुआ है।

जानकारी के अनुसार, अनूपपुर जिले के जैतहरी विकासखंड अंतर्गत ग्राम धनगवां में आरोपी मृतक दीपक विश्वकर्मा का अपने भाई से कुछ दिनों से विवाद चल रहा था। प्रतिदिन के झगड़े से वह मानसिक रूप से काफी परेशान था। बताया जा रहा है कि बुधवार रात भी दोनों में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ। गुस्से में दीपक ने रात करीब 1:30 बजे सो रहे भाई- भाभी ,भतीजी और भतीजा पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

पुलिस को मृतक आरोपी दीपक विश्वकर्मा के कमरे की दीवार पर एक नोट लिखा मिला है। नोट 22 नवंबर को लिखा बताया जा रहा है जिसमें लिखा है कि,’मेरे कमरे में घुस कर मुझे मारे हैं और कहते हैं कि तेरा यहां कुछ नहीं है और घर से भगा रहे है। आरोप लगाते है कि जुआं सट्टा खेलते हो।’  नोट में मृतक ने 22 नवंबर की तारीख भी लिखी है।

हादसे में झुलसे भाई ओंकार विश्वकर्मा उम्र 35 साल, भाभी कस्तूरिया विश्वकर्मा तथा 17 साल की भतीजी और एक 5 साल का भतीजा था, जिसमें से 3 की मौके पर मौत हो गई और एक की हालत गंभीर बताई जा रही है, जो शहडोल के जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News