Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

रेलवे में नौकरी का इंतजार करने वालों के लिए खुशखबरी, 1.40 लाख पदों पर परीक्षा कराने की तैयारी

नई दिल्ली। Indian Railway Jobs: रेलवे में नौकरी के लिए आवेदन करने वालों के लिए अच्छी खबर है। 15 दिसंबर से लगभग 1.40 लाख रिक्तियों के लिए कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी) शुरू होगी और रेलवे ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष व मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनोद कुमार यादव ने सभी जोन के महाप्रबंधकों को पत्र लिखकर रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) को जरूरी सहयोग करने का निर्देश दिया है जिससे कि परीक्षा के आयोजन में किसी तरह की परेशानी नहीं हो।

विभिन्न रेलवे जोन में गैर तकनीकी लोकप्रिय श्रेणी (एनटीपीसी- ग्रेजुएट व अंडर-ग्रेजुएट) में 35,208 पदों, आइसोलेटेड और मिनिस्ट्रीयल श्रेणी (स्टेनो आदि) में 1663 पदों और लेवल-1 या ग्रुप डी (ट्रैक मेंटेनर, प्वाइंट्समैन आदि) के कुल 1,03,769 पदों पर भर्ती के लिए 2.40 करोड़ आवेदन प्राप्त हुए हैं। पिछले कई माह से आवेदक परीक्षा होने का इंतजार कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण की वजह से इसमें देरी हो रही है। फेसबुक, ट्विटर पर भी परीक्षा जल्द कराने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। कुछ दिनों पहले रेल मंत्रालय ने 15 दिसंबर से परीक्षा शुरू करने की घोषणा की है।

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने महाप्रबंधकों को पत्र लिखकर कहा है कि आरआरबी द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा की प्रक्रिया लंबी हो सकती है और यह जून,2021 तक बढ़ सकती है। इन परीक्षाओं के लिए आरआबी को लाजिस्टिक सहयोग की जरूरत होगी। मानव संसाधन और वाहनों के साथ ही अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए संबंधित विभागीय प्रमुखों को निर्देश जारी करने को कहा गया है। परीक्षा के दौरान कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जारी दिशा निर्देशों का पूरा पालन किया जाएगा।

वहीं, कोरोना संक्रमण के बढ़ रहे मामले को देखते हुए परीक्षा आयोजित करना बड़ी चुनौती है। अधिकारियों का कहना है कि परीक्षार्थियों को मास्क पहनना पड़ेगा, जिसके कारण हमशक्ल बनकर परीक्षा देने वालों पर लगाम लगाने की चनौती रहेगी। इसी तरह से परीक्षा केंद्रों पर भीड़ इकट्ठी होने पर शारीरिक दूरी का पालन कराना भी आसान नहीं है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News