Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

प्रधानमंत्री मोदी ने किया बेंगलुरु टेक समिट का उद्घाटन, डिजिटल इंडिया को बताया गेमचेंजर

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बेंगलुरु प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन (Bengaluru Tech Summit 2020) का शुभारंभ किया। इस खास कार्यक्रम में नई तकनीक के साथ महामारी के बाद आने वाली प्रमुख चुनौतियों पर चर्चा की जा रही है। आपको बता दें कि कर्नाटक सरकार, बायोटेक्नोलॉजी एंड स्टार्टअप, सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क्स ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) और एमएम एक्टिविटी-टेक कम्युनिकेशंस ने साथ मिलकर इस टेक समिट का आयोजन किया है, जो कि 19 नवंबर से 21 नवंबर तक चलेगा।

पीएम मोदी ने किया संबोधित 

  • पीएम मोदी ने कहा कि टेक्नोलॉजी ने मानवीय गरिमा को बढ़ाने का काम किया है। मौजूदा वक्त में लाखों किसानों एक क्लिक पर वित्तीय सहायता समेत जरूरी जानकारी हासिल कर पाते हैं। यह सब टेक्नोलॉजी के माध्यम से ही संभव हो सका है।
  • कोरोना वायरस के दौर में टेक्नोलॉजी ने गरीबों तक मानवीय मदद पहुंचाने में काफी मदद की है। पीएम मोदी ने बताया कि भारत के पास इंफॉर्मेशन के दौर में खुद को आगे रखने की भरपूर ताकत है। हमारे पास टेक्नलॉजी से जुड़ा कमाल का नॉलेज मौजूद है साथ ही हमारे पास एक बड़ा बाजार है। हमारे लोकल टेक सॉल्यूशन के पास इस दिशा में दुनिया को देने के लिए काफी कुछ है।
  • मौजूदा वक्त में टेक सॉल्यूशन को भारत में डिजाइन किया जाता है। फिर इसे पूरी दुनिया में पहुंचाया जाता है। पीएम मोदी ने कहा कि युवा साइबर सिक्योरिटी सॉल्यूशन की दिशा में अहम रोल अदा कर सकते हैं।
  • डिजिटल इंडिया जीवन जाने का एक तरीका बन गया है। BHIM UPI (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) इसका एक जीता जागता उदाहरण है। पीएम मोदी ने कहा कि हम इंफॉर्मेशन के मध्य युग में हैं। इसमें किसने पहले एंट्री ली, यह महत्व नही रखता है, बल्कि सबसे ज्यादा महत्व यह रखता है, आखिर इस फील्ड में सबसे बेहतर कौन है।
  • पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने डिजिटल और टेक सॉल्यूशन के लिए सफलतापूर्वक एक मार्केट तैयार किया है। सरकार ने अपनी सभी योजनाओं में टेक्नोलॉजी को अहम हिस्सेदारी दी है। हमारी सरकार का मॉडल “टेक्नोलॉजी फर्स्ट” है।

बेंगलुरु टेक समिट 2020 की थीम

इस वर्ष बेंगलुरु टेक समिट 2020 की थीम Next is Now रखी गई है। इस कार्यक्रम में उभरती हुई नई तकनीक से लेकर कोविड-19 के बाद आने वाली मुख्य चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया जा रहा है। इसके तहत कोरोना महामारी के बाद के विश्व में उभरती मुख्य चुनौतियां और ‘सूचना प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रॉनिक्स’ और बायोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में प्रमुख प्रौद्योगिकी और नई तकनीकों के प्रभाव पर मुख्य रूप से चर्चा की जा रही है।कोरोना महामारी के कारण Tech Summit 2020 को भी वर्चुअली आयोजित किया जा रहा है। यानि इसमें हिस्सा लेने वाले सभी लोग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इसमें जुड़कर अपने विचार रखेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News