Cover
ब्रेकिंग
EOW ने नगर निगम के सिटी प्लानर को 50 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा, नगर निगम ने पद से हटाया पति बनाना चाहता है मुस्लिम, घर में देवी देवताओं की तस्वीरें भी नहीं रखने देता, महिला पहुंची थाने दिल्ली पुलिस में कांसटेबल भर्ती परीक्षा में धांधली कराने वाले 12 आरोपी गिरफ्तार कोरोना काल में आगरा जेल से पैरोल पर छोड़े गए 114 बंदियों में 85 नहीं हुए हाजिर सोमवार को SCO समिट में हिस्सा लेंगे पीएम मोदी, चौथी बार आमने सामने होंगे भारत-चीन जम्मू-कश्मीरः DDC चुनाव में दिखा लोगों का उत्साह, पहले चरण में 52 फीसदी वोटिंग कोरोना वैक्‍सीन के लि‍ए पीएम मोदी सीरम इंस्‍टीट्यूट पहुंचे, ली जानकारी गुजरात में अलंग शिप यार्ड के अपग्रेडेशन के लिए एनजीटी ने किया हस्तक्षेप करने से इन्कार राजनाथ बोले, एक सीमा तक शांति के मार्ग पर चलता रहेगा भारत, मोदी सरकार में हर मोर्चे पर मजबूती से डटा है देश सीमा पार के आतंकियों को खटक रहा घाटी का अमन चैन, सेना प्रमुख बोले- LoC पार बड़ी संख्‍या में लॉन्चिंग पैड मौजूद

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने पुजारा को लेकर की भविष्यवाणी, पिछली बार रन बनाया इस बार मुश्किल होगी

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम ऑस्ट्रेलिया दौर पर पहुंच चुकी है और पूर्व दिग्गजों के बयान भी आने शुरू हो गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा ने कहा है कि पिछली बार टेस्ट सीरीज जीतने के बाद अब टीम इंडिया के अंदर से ऑस्ट्रेलिया दौरे का डर निकल गया होगा। उन्होंने यह भी कहा कि पिछली सीरीज में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले चेतेश्वर पुजारा का यह दौरा आसान नहीं होगा।

भारत ने पिछले दौरे पर ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया था। क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था जब भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया से ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीजी जीती। विराट कोहली भारतीय इतिहास में ऐसा करने वाले पहले कप्तान बने थे। पुजारा ने इस दौरे पर 74.42 की औसत से कुल 521 रन बनाए थे। मैक्ग्रा का मानना है यह दौरा उनके लिए मुश्किल साबित होग

मैक्ग्रा ने कहा, “जो चीज उन्होंने पिछले दौरे पर सबसे अच्छी की वो क्रीज पर ज्यादा वक्त बिताना था। उन्होंने मैदान पर ज्यादा देर तक बल्लेबाजी करते हुए वक्त बिताया था। वो एक ऐसे बल्लेबाज हैं जो दबाव नहीं लेते हैं जब रन नहीं बनते। ऐसा आधुनिक क्रिकेट में बहुत ही अलग बात है जहां कि एक मेडल ओवर के बाद ही बल्लेबाज रन बनाने के लिए परेशान हो जाते हैं। पुजारा की मानसिकता ऐसी बिल्कुल भी नहीं है। इसी का फायदा पिछले दौरे पर मिला, जिसने उनको ज्यादा वक्त बिताने का मौका दिया और काफी रन भी बनाए।”

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज 27 नवंबर से शुरू हो रही है जबकि टेस्ट सीरीज की शुरुआत 17 दिसंबर से होगी। इस दौरे पर भारतीय टीम तीन वनडे और टी20 मुकाबले खेलेगी। वहीं चार टेस्ट मैचों की सीरीज से साथ यह दौरा खत्म होगा।

आगे उन्होंने कहा, “अब जबकि उन्होंने ज्यादा मैदान पर बल्लेबाजी करते हुए ज्यादा वक्त नहीं बिताया है तो इसका बहुत ज्यादा असर उनके उपर पड़ेगा। इस बार सीरीज के दौरान उनको ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि इस बार वो ज्यादा क्रिकेट खेलकर नहीं आ रहे हैं।”

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News