Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

Google लेकर आ रहा है स्मार्ट फीचर, अब सेटिंग में खुद कर सकेंगे बदलाव

नई दिल्ली। दिग्गज टेक कंपनी Google अपने यूजर्स की सुविधा और ​प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए जल्द ही उनके लिए स्मार्ट फीचर लेकर आने वाली है। कंपनी ने अपने आधिकारिक ब्लॉग के जरिए इसकी जानकारी देते हुए बताया है कि स्मार्ट फीचर्स Gmail, Chat और Meet के लिए पेश किए जाएंगे। स्मार्ट फीचर्स की मदद से सभी प्रोडक्ट्स में डाटा की गोपनियता और सुरक्षा पर फोकस किया जाएगा। यह फीचर्स जल्द ही इन प्रोडक्ट्स की सेटिंग्स में देखने को मिलेंगे।

Google के ब्लॉग परन दी गई जानकारी के अनुसार Gmail में स्मार्ट फीचर्स और निजीकरण के लिए एक नई सेटिंग की जाएगी। जो कि यूजर्स के डाटा का संरक्षण करने के साथ Google एक्सपीरियंस को पहले की तुलना में काफी बेहतर बनाएगी। Google के प्रोडक्ट मैनेजर ​मलिका मनोहरन का कहना है कि नए स्मार्ट फीचर्स आने के बाद यूजर्स इनबॉक्स में टैप कर कम्पोज बॉक्स में जाकर Gmail में स्मार्ट रिप्लाई कर सकेंगे। साथ ही गूगल असिस्टेंट में बकाए बिल का रिमाइंडर और गूगल मैप्स में रेस्टोरेंज का रिजर्वेशन करने वाली सेटिंग को अब आप खुद ही चेंज कर सकेंगे। यूजर्स का यह अपना फैसला होगा कि उन्हें स्मार्ट फीचर्स का इस्तेमाल करना है या नहीं

Google की प्रोडक्ट मैनेजर ने ब्लॉग में यह भी कहा है कि अगर आप स्मार्ट फीचर्स के इस्तेमाल के इच्छुक नहीं भी हैं, तब भी आप Gmail सहित अन्य Google के प्रोडक्ट का उपयोग करने में सक्षम होंगे। अगर आपको बाद में लगता है कि ये फीचर्स अच्छे और उपयोगी हैं, तो आप इन्हें ऑन कर दीजिए और ऐसा करने के लिए आपको Gmail की सेटिंग्स में जाना होगा।

इसके अलावा Google के सभी प्रोडक्ट्स के लिए डाटा की सुरक्षा और प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए फीचर्स को डिजाइन किया गया है। पहले की तरह, इन स्मार्ट फीचर्स को स्वचालित एल्गोरिदम का उपयोग करके प्रदान किया जाता है, न कि मैनुअल समीक्षा।  Google विज्ञापन Gmail में आपके निजी डाटा पर आधारित नहीं हैं, चाहें आप कोई भी चुनाव करें। आप अपने डाटा को खुद ही कंट्रोल करने के साथ ही उसे सुरक्षित रख सकेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News