Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बोले, लोग बहुत बोलते हैं विराट कोहली के बारे में, मैं उनको आम खिलाड़ी मानता हूं

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहुंचने के साथ ही विरोधी टीम की तरफ से बयान आने शुरू हो गए हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली को लेकर ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने बात की हैं। उन्होंने बताया कि वह कोहली को बस एक खिलाड़ी के तौर पर जानते हैं। जैसे दुनिया के बाकी क्रिकेटर हैं कोहली भी उनमें से एक हैं।

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने बताया कि वो और कोहली बस टॉस के समय ही मिलते हैं। मैदान पर ज्यादा बातें नही होती। उन्होंने कहा, “मुझे विराट कोहली को लेकर काफी सारे सवाल किए जाते हैं, वह मेरे लिए वैसे ही हैं जैसे बाकी सारे खिलाड़ी हैं, मुझे इससे वाकई इस बात की कोई परवाह नहीं करता। ईमानदारी से कहूं तो मेरा उनके साथ कोई वैसा रिश्ता नहीं है। मैं उनसे टॉस के वक्त पर मिलता हूं उनके खिलाफ मैदान पर खेलता हूं बस इससे ज्यादा कुछ भी नहीं है।”

भारतीय कप्तान के बल्लेबाजी की पूरी दुनिया लोहा मानती है। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ने भी कोहली की तारीफ की लेकिन साथ ही यह भी कहा कि वो रन बनाए ये पसंद नहीं है। पेन ने कहा, “विराट के साथ एक बहुत ही कमाल की बात है कि हम उनसे नफरत करना पसंद करते हैं लेकिन एक क्रिकेट फैन की लिहाज से उनको बल्लेबाजी करते हुए देखना भी पसंद करते हैं। यह भी अजीब बात है कि हम उनको बल्लेबाजी करते हुए देखना तो पसंद करते हैं लेकिन उनको ज्यादा रन बनाते हुए देखना नहीं चाहते हैं।”

आगे उन्होंने कहा, “भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक नफरत भरी प्रतियोगिता होती है और वो वाकई में एक प्रतिस्पर्धा करने वाले इंसान हैं और मैं भी ऐसा ही हूं। ऐसे में कई मौके आए हैं जब हमारे बीच बातें भी हुई लेकिन ऐसी इसलिए नहीं कि वो कप्तान थे या फिर मैं टीम की कप्तानी कर रहा था यह तो किसी के भी साथ हो सकता है।”

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News