Cover
ब्रेकिंग
इस मेले में बिक रहा कोरोना गधा, मास्क पहनकर लोगों को कर रहा जागरूक हैदराबाद नगर निगम के चुनाव में चर्चा का विषय बना यह मंदिर, जानें क्या है वजह? चीन के साथ तनाव के बीच भारत को मिला श्रीलंका और मालदीव का साथ किसानों के समर्थन में अन्ना हजारे, बोले- अन्नदाता की बात सुने सरकार...वो पाकिस्तानी नहीं जेसी बैंक चुनाव: रिकाउंटिंग में भी मजदूर संघ का कब्जा, वाजिद खान और नीलम, कौन बने डायरेक्टर? CA फाइनल ईयर की छात्रा का पेपर अच्छा नहीं हुआ तो लगाया फंदा, सुसाइड नोट में मांगी पेरेंट्स से माफी सिंधिया का जलवा बरकरार, हार के बाद भी मंत्री बनेगी इमरती एक और लव जिहाद: पति उर्दु अरबी पढ़ने का बनाता था दबाव, तरह तरह के पहनाता था ताबीज वीडी शर्मा जल्द करेंगे कार्यसमिति का गठन, 3-4 सिंधिया समर्थकों को मिलेगी जगह शिव ’राज’ में महापाप, पिता-चाचा समेत मासूम के साथ बर्बरता, फिर ट्रैक्टर से रौंदकर हत्या

भारत में अगले साल आ जाएगी कोरोना की 2 वैक्सीन, स्वास्थ्य मंत्री ने बताई रणनीति

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने उम्मीद जताते हुए कहा है कि भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन अगले साल की शुरुआत तक आ जाएगी। हर्षवर्धन मंत्रियों के समूह (GoM) की 21वीं बैठक में बोल रहे थे। इस दौरान उनके साथ नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी और विदेश मंत्री एस.जयशंकर भी मौजूद थे।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले साल की शुरुआत में हमें एक से अधिक स्रोतों से कोरोना वायरस की वैक्सीन मिल जाएगी। हमारे विशेषज्ञ समूह देश में वैक्सीन के वितरण की योजना बनाने के लिए रणनीति तैयार कर रहे हैं।’

इससे पहले रविवार को संडे संवाद में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि भारत जैसे बड़े देश में टीके की आपूर्ति को प्राथमिकता देना कई कारकों पर निर्भर करता है जैसे संक्रमण का खतरा, विभिन्न जनसंख्या समूह के बीच अन्य रोग का प्रसार, कोविड-19 मामलों के बीच मृत्यु दर और कई अन्य। मंत्री ने कहा कि योजना का सबसे महत्वपूर्ण कारक शीत श्रृंखला और परिवहन के अन्य साधन हैं ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि अंतिम स्थान तक टीके की आपूर्ति में कोई बाधा नहीं आए।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News