Cover
ब्रेकिंग
Rhea Chakraborty के भाई शौविक चक्रवर्ती को लगभग 3 महीने बाद मिली ज़मानत, ड्रग्स केस में हुई थी गिरफ़्तारी कांग्रेस का आरोप, केंद्र सरकार ने बैठक कर किसानों की आंखों में झोंकी धूल मुंबई: यूपी फिल्म सिटी निर्माण पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- हम यहां कुछ लेने नहीं, नया बनाने आए कर्नाटक में जनवरी-फरवरी में कोविड-19 की दूसरी लहर की आशंका, लोगों में डर का माहौल दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सख्त NGT, क्रिसमस-नए साल पर पटाखे नहीं चला पाएंगे लोग जाधव के लिए वकील नियुक्ति मामले पर विस्तार से चर्चा की सलाह, अहलूवालिया रखेंगे भारत का पक्ष पीड़िता बोली- ससुर करता था अश्लील हरकतें, 2 महीने की बच्ची पर भी तरस नहीं किया, दे दिया तीन तलाक भगवान को ठंड से बचाने के लिए भक्तों ने ओढ़ाए गर्म वस्त्र भूमाफिया बब्बू और छब्बू पर चला प्रशासन का डंडा, अवैध निर्माण जमींदोज दर्दनाक हादसे का सुखद अंत: 3 लोगों समेत अनियंत्रित बोलेरो गहरी नदी में समाई

CM शिवराज की कार के आगे लेटी युवती, बोली- मेरी मां को बचा लो मैं तिल-तिल मरते नहीं देख सकती

ग्वालियर: ग्वालियर में उस समय स्थिति अजीबोगरीब पैदा हो गई जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कार के सामने एक युवती खड़ी हो गई। युवती ने सीएम की कार के सामने आकर काफिले को रोक दिया और कार के आगे लेटने की कोशिश की। लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उसे हटा दिया। बाद में सीएम ने युवती की समस्या पूछी और उसे हर संभव मदद का भरोसा दिया।

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्थानीय बंधन वाटिका में आयोजित अम्मा महाराज के जन्म शताब्दी वर्ष के समापन समारोह में हिस्सा लेने आए थे। कार्यक्रम के बाद जैसे ही उनका काफिला कार्यक्रम स्थल से निकलने को हुआ, वैसे ही एक युवती वहां पहुंच गई। सुरक्षाकर्मियों ने उसे हटा दिया तो उसने कार के आगे लेटने की कोशिश की। सीएम ने युवती को देख कर उसे अपने पास बुलाया और उसकी समस्या पूछी। पता चला कि युवती अशोक कॉलोनी मुरार की रहने वाली है। उसकी मां शांति देवी माहौर कैंसर पीड़ित है। उसका बिरला अस्पताल में भी इलाज चला था। वहां उसका ऑपरेशन भी किया था। लेकिन माधव डिस्पेंसरी में चिकित्सकों ने बताया कि उसकी मां को फोर्थ स्टेज का कैंसर है जिसका इलाज ग्वालियर में संभव नहीं है। महिला को इलाज के लिए बाहर ले जाना है लेकिन बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली इस युवती की मदद के लिए कोई भी आगे नहीं आया है। युवती पिछले कई दिनों से राजनेताओं और अफसरों के चक्कर लगा रही है लेकिन उसे कोई मदद नहीं मिली। सीएम ने अब युवती को मदद का आश्वासन दिया है।

वहीं महिला का कहना है कि उसने मजबूरी में सीएम की कार के सामने लेटने की कोशिश की क्योंकि वह बहुत परेशान हो चुकी है और मां को तिल तिल कर मरते हुए देखना नहीं चाहती है जनप्रतिनिधि और अफसर उसकी सुनवाई नहीं कर रहे हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News