Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की आतंकवादियों ने की निर्मम हत्या

तेहरान। ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की हत्या कर दी गई। ईरान के एक न्यूज चैनल से मिली जानकारी के अनुसार आंतकवादियों ने देश के प्रख्यात वैज्ञानिक की हत्या कर दी। ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने उनकी हत्या की निंदा करते हुए इसे ‘राज्य प्रायोजित आतंक की घटना करार दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यह कायरता इजरायल की भूमिका के गंभीर संकेत के साथ-साथ अपराधियों की हताशा दिखाती है। ईरान ने आंतरिक समुदाय और विशेष रूप से यूरोपीय संघ से अपने शर्मनाक दोहरे मानदंडों को समाप्त करने और राज्य आतंक के इस कृत्य की निंदा की है।

फखरीजादेह रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स में नई तकनीक के अनुसंधान केंद्र के प्रमुख थे। उन्हें ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम के मास्टरमाइंडों में से एक माना जाता है।

पश्चिमी खुफिया एजेंसियां फखरीजादेह को एक गुप्त ईरानी परमाणु हथियार कार्यक्रम के पीछे देखती हैं। एक पश्चिमी राजनयिक ने 2014 में समाचार एजेंसी रायटर को बताया था कि अगर ईरान ने कभी हथियार (संवर्धन) को चुना तो फखरीजादेह को ईरानी बम के पिता के रूप में जाना जाएगा

ईरान द्वारा उत्पादित समृद्ध यूरेनियम की बढ़ी मात्रा के बारे में ताजा चिंता के बीच हत्या की खबरें आती हैं। नागरिक परमाणु ऊर्जा उत्पादन और सैन्य परमाणु हथियार दोनों के लिए समृद्ध यूरेनियम एक महत्वपूर्ण घटक है।

हत्या के पीछे इजरायल पर मिलीभगत का लगता रहा है आरोप

बता दें कि ईरान अपने परमाणु कार्यक्रम को विशेष रूप से शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए जोर देता है। 2010 और 2012 के बीच चार ईरानी परमाणु वैज्ञानिकों की हत्या कर दी गई और ईरान ने हत्याओं में इजरायल पर मिलीभगत का आरोप लगाया। मई 2018 में ईरान के परमाणु कार्यक्रम के बारे में इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू की प्रस्तुति में फखरीजादेह का नाम विशेष रूप से उल्लेखित किया गया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News