Cover
ब्रेकिंग
Rhea Chakraborty के भाई शौविक चक्रवर्ती को लगभग 3 महीने बाद मिली ज़मानत, ड्रग्स केस में हुई थी गिरफ़्तारी कांग्रेस का आरोप, केंद्र सरकार ने बैठक कर किसानों की आंखों में झोंकी धूल मुंबई: यूपी फिल्म सिटी निर्माण पर बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- हम यहां कुछ लेने नहीं, नया बनाने आए कर्नाटक में जनवरी-फरवरी में कोविड-19 की दूसरी लहर की आशंका, लोगों में डर का माहौल दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सख्त NGT, क्रिसमस-नए साल पर पटाखे नहीं चला पाएंगे लोग जाधव के लिए वकील नियुक्ति मामले पर विस्तार से चर्चा की सलाह, अहलूवालिया रखेंगे भारत का पक्ष पीड़िता बोली- ससुर करता था अश्लील हरकतें, 2 महीने की बच्ची पर भी तरस नहीं किया, दे दिया तीन तलाक भगवान को ठंड से बचाने के लिए भक्तों ने ओढ़ाए गर्म वस्त्र भूमाफिया बब्बू और छब्बू पर चला प्रशासन का डंडा, अवैध निर्माण जमींदोज दर्दनाक हादसे का सुखद अंत: 3 लोगों समेत अनियंत्रित बोलेरो गहरी नदी में समाई

तमिलनाडु के कृषि मंत्री की कोरोना से मौत, प्रधानमंत्री मोदी समेत दिग्‍गज हस्तियों ने जताया शोक

चेन्नई। तमिलनाडु के कृषि मंत्री आर दोरईक्कान्नू (R Doraikkannu) का शनिवार रात को चेन्‍नई में निधन हो गया। 72 वर्षीय आर. दोरईक्कान्नू कोरोना से संक्रमित थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत दिग्‍गज सियासी हस्तियों ने आर दोरईक्कान्नू के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। कावेरी अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ. ए सेल्वराज ने मेडिकल बुलेटिन में बताया कि राज्‍य के कृषि मंत्री आर. दोरईक्कान्नू का शनिवार रात को 11.15 बजे निधन हुआ।

डॉ. ए सेल्वराज ने बताया, ‘दोरईक्कान्नू को यहां 13 अक्टूबर को विल्लपुरम के सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल से यहां भर्ती कराया गया था। उन्हें बेचैनी की शिकायत थी और डॉक्‍टर उनका यहां इलाज कर रहे थे। इस मुश्किल वक्त में हमारी प्रार्थनाएं दोरईक्कान्नू के परिजनों के साथ हैं। तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने भी दोरईक्कान्नू के निधन पर शोक संवेदना जताई है। उन्‍होंने कहा कि मंत्री के निधन के बारे में जानकर उनको बेहद दुख हुआ।

राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने अपने शोक संदेश में कहा कि दोरईक्कान्नू अपनी सादगी, विनम्रता, साफगोई, शासन कौशल और किसान समुदाय के कल्याण के लिए प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते थे। दोरईक्कान्नू ने राज्‍य के कृषि मंत्रालय को पूरी लगन के साथ संभाला था और वहां अपनी मजबूत छवि बनाई थी। उनका असामयिक निधन तमिलनाडु के लोगों के लिए एक अपूरणीय क्षति है।

पुरोहित ने दोरईक्कान्नू के शोक संतप्‍त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना जताई और कहा कि वह ईश्‍वर से दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हैं। दोरईक्कान्नू तंजावुर जिले के पापनासम से तीन बार विधानसभा के सदस्य चुने गए थे। वह साल 2006, 2011 और 2016 में तमिलनाडु विधानसभा के सदस्य के तौर पर निर्वाचित हुए थे। दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता ने दोरईक्कान्नू को साल 2016 में अपनी कैबिनेट में जगह दी थी।

अस्पताल की मानें तो पिछले रविवार से उनकी तबियत ज्यादा खराब चल रही थी। अस्‍पताल के मुताबिक, उन्‍हें कोविड निमोनिया हो गया था जिसके चलते कई दूसरी जटिलताएं हो गई थीं। तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री के पलानीस्‍वामी, उपमुख्‍यमंत्री पन्‍नीरसेल्‍वम, द्रमुख अध्‍यक्ष एमके स्‍टालिन समेत राज्‍य की कई सियासी हस्तियों ने भी कृषि मंत्री आर दोरईक्कान्नू (R Doraikkannu) के निधन पर शोक संवेदना जताई है।

मालूम हो कि कई सियासी हस्तियां भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुकी हैं। इनमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, धर्मेंद्र प्रधान, श्रीपद नाईक, रामदास अठावले, मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया, उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव, भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और रिजर्व बैंक के गर्वनर शक्तिकांत दास शामिल हैं। हाल ही में स्मृति ईरानी भी संक्रमण की चपेट में आई हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News