Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

पाकिस्तान में फिर पीएम मोदी और अभिनंदन की गूंज, लाहौर में सड़कों पर लगे पोस्टर

लाहौर। भारतीय वायु सेना के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का नाम एक बार फिर पाकिस्तान में गूंज रहा है। लाहौर की सड़कों पर जगह-जगह उनके पोस्टर लगाए गए हैं। अभिनंदन के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर भी पोस्टर में है। इसकी वजह पाकिस्तान सरकार और सेना प्रमुख की पोल खोलने वाले नवाज शरीफ की पार्टी के सांसद अयाज सादिक हैं। पोस्टर में सादिक को अभिनंदन की शक्ल में दिखाया गया है।

पाकिस्तान की पोल खोलने वाले अयाज सादिक के विरोध में लगे पोस्टर

दरअसल, अयाज सादिक ने तीन दिन पहले अपने देश की संसद नेशनल असेंबली में कहा था कि अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान ने भारत से डरकर छोड़ा था। उन्होंने कहा था कि अभिनंदन के मसले पर पिछले साल फरवरी में उच्च स्तरीय बैठक हुई थी। उसमें प्रधानमंत्री इमरान खान को भी आना था, लेकिन वो नहीं आए।

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा मौजूद थे। कुरैशी ने कहा था कि खुदा के वास्ते अभिनंदन को जाने दें। अगर अभिनंदन को रात नौ बजे तक नहीं छोड़ा गया तो भारत हमला कर देगा। कुरैशी जब यह कह रहे थे, तब बाजवा के पैरे कांप रहे थे और उनक चेहरे पर पसीना आ रहा था। इस बयान के बाद सादिक निशाने पर आ गया है।

सादिक को अभिनंदन की शक्ल में दिखाया गया

 वह लाहौर से चुनकर आते हैं। लाहौर में अभिनंदन की शक्ल में उनका पोस्टर लगाकर उन्हें गद्दार बताया गया है। उनकी तुलना मीर जाफर से की गई है। उन्हें भारत समर्थक बताया गया है। कई पोस्टर में उनसे भारत जाकर अमृतसर में रहने को कहा गया है। इमरान सरकार उनके बयान से तिलमिलाई हुई है। उनके खिलाफ देशद्रोह का केस चलाने की तैयारी हो रही है। उनकी पार्टी पीएमएल-एन ने कहा है कि इमरान सरकार विपक्षी नेताओं को देशद्रोह के मामले में फंसा रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News