Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

तारेक फतेह ने किया पाकिस्‍तानी साजिश का पर्दाफाश, कहा- राजद्रोह के जरिए देना चाहते हैं फांसी

वाशिंगटन। पाकिस्तानी मूल के लेखक तारेक फतेह (Tarek Fateh) ने मंगलवार सुबह अमेरिका में रहने वाले पाकिस्‍तानी सैन्‍य अधिकारियों की ओर से मौत की धमकी मिलने की जानकारी दी। उन्‍होंने इस सनसनीखेज जानकारी को अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्‍ट की।  उन्‍होंने बताया, ‘अमेरिका में रहने वाले ये रिटायर पाकिस्‍तानी सैन्‍य अधिकारी मुझपर राजद्रोह का आरोप लगाना चाहते हैं और फांसी देना चाहते हैं।’

इसके अनुसार, अमेरिका में रहने वाले पाकिस्‍तानी सैन्‍य अधिकारियों (Retired Pakistani Military Officers) द्वारा मौत की धमकी दी गई है। उन्‍होंने पाकिस्‍तान के लिए सबसे अधिक खतरनाक बताते हुए 14 लोगों के नाम वाली एक लिस्‍ट जारी की है।

पिछले माह तारेक फतेह ने फ्रांस में हुए आतंकी हमले की निंदा की थी। इस क्रम में उन्‍होंने पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर भी हमला बोला। इस्लामी अतिवाद का विरोध करने वाले तारेक फतेह एक उदारवादी इस्लाम के पक्ष को बढ़ावा देने के लिए मशहूर हैं। वे दक्षिण एशिया और विशेष रूप से कट्टरपंथी भारतीय और पाकिस्तानी मुसलमानों की अलगाववादी संस्कृति के खिलाफ हैं। इसके अलावा वे बलूचिस्‍तान में मानवाधिकार हनन और पाकिस्तान द्वारा वहां के लोगों के शोषण के मुद्दों को उठाते हैं और इस पर बोलते और लिखते हैं।

तारेक फतेह का जन्‍म 20 नवंबर, 1949 को पाकिस्तान में हुआ था। शुरुआत से ही वे पढ़ाई में अव्‍वल थे। कराची यूनिवर्सिटी बायोकेमेस्ट्री पढ़ने के लिए उन्‍हें स्‍कॉलरशिप मिला था। इसी दौरान शिया युवती नरगिस तपाल से उनकी मुलाकात हुई जिनसे बाद में उन्‍होंने शादी कर ली।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News