Cover
ब्रेकिंग
याेगी सरकार ने लव जिहाद कानून काे दी मंजूरी, साधू संतों ने फैसले का किया स्वागत अहमद पटेल के निधन पर बोले दिग्विजय- वे सभी कांग्रेसियों के लिए हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे विजय सिन्‍हा चुने गए स्‍पीकर ,पक्ष में पड़े 126 वोट, विपक्ष में 114 नगरोटा साजिश के पीछे था पाक का हाथ! आतंकियों के पास से मिले डिवाइस ने खोले कई राज राहुल गांधी ने किए तरुण गोगोई के अंतिम दर्शन, बोले- मैंने अपने गुरु को खो दिया चौहान, कमलनाथ, दिग्विजय, सिंधिया ने पटेल के निधन पर शोक व्यक्त किया अहमद पटेल के निधन पर बोले दिग्विजय- वे सभी कांग्रेसियों के लिए हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे आज तमिलनाडु के तटों से टकराएगा 'निवार', MP में दिखेगा असर, बदलेंगे मौसम के मिजाज UP के बाद मध्य प्रदेश में जल्द बनेगा लव जेहाद के खिलाफ कानून, गृहमंत्री ने बुलाई अहम बैठक पश्चिम रेलवे की पहली किसान रेल सेवा शुरु, सांसद शंकर लालवानी ने दिखाई हरी झंडी

कांग्रेस नेता के आलीशान घर पर चले नगर-निगम के बुलडोजर, जुआ खिलाते पकड़े जा चुके हैं नेताजी

जबलपुर: जुआ किंग के नाम से मशहूर कांग्रेस नेता गज्जू उर्फ गजेंद्र सोनकर को जेल भेजने के बाद रविवार की सुबह-सुबह नगर-निगम के बुलडोजर उसके अवैध निर्माणों को ध्वस्त करने पहुंचे। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में प्रशासनिक अमले ने कांग्रेस नेता गजेंद्र सोनकर उर्फ गज्जू के अवैध कब्जों को तोड़ना शुरू कर दिया।

दरअसल पिछले दिनों ही पुलिस ने कांग्रेस नेता गजेंद्र सोनकर के ठिकाने पर दबिश देकर जबलपुर के अब तक के सबसे बड़े जुआ फड़ का भंडाफोड़ किया था, जिसके बाद पुलिस की जांच में कांग्रेस नेता के कई काले कारनामों और गोरखधंधों में शामिल होने का खुलासा हुआ था। भारी मात्रा में हथियारों का जखीरा मिलने के बाद पुलिस ने कांग्रेस नेता गजेंद्र सोनकर उसके भाई सोनू सोनकर के खिलाफ एनएसए यानी राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई कर उन्हें जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया था। सरकारी जमीन पर कब्जे के दस्तावेज सामने आने के बाद जिला प्रशासन और नगर निगम ने संयुक्त मुहिम चलाते हुए रविवार की सुबह से ही कांग्रेस नेता और जुआ किंग गजेंद्र सोनकर के ठिकानों पर बुलडोजर चलाने शुरू कर दिए। भानतलैया के मेन रोड पर गज्जू सोनकर ने कांग्रेस की आड़ लेकर आलीशान कार्यालय तान रखा था और उसके पीछे बिना स्वीकृति के ही उसने सरकारी जमीन पर कब्जा कर आलीशान महल खड़ा कर दिया था। कार्रवाई के दौरान नगर-निगम के अमले ने कांग्रेस के बोर्ड लगाकर ताने गए कार्यालय को तो ध्वस्त कर ही दिया साथ ही आलीशान मकान के कुछ हिस्सों को भी जमींदोज कर दिया।

प्रशासनिक अधिकारियों का दावा है कि प्रदेश सरकार द्वारा माफिया के विरुद्ध चलाई जा रही मुहिम के तहत सरकारी जमीनों पर कब्जा करने वाले बड़े भू माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जा रही है। प्रशासन की इस पूरी कार्यवाही पर कांग्रेस नेता गज्जू उर्फ गजेंद्र सोनकर के परिजनों ने सवाल खड़े किए हैं। उनका आरोप है कि पुलिस और प्रशासन स्थानीय नेताओं के इशारों पर बदले की भावना से कार्रवाई कर रहा है। उनका आरोप है कि कार्रवाई के पहले न तो परिवार को सूचना दी गई और न ही किसी प्रकार का नोटिस दिया गया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News