Cover
ब्रेकिंग
ईदगाह हिल्स बनेगी गुरुनानक टेकरी !, बीजेपी नेता बोले- हजारों सिखों ने राम मंदिर के लिए किया संघर्ष केंद्र के साथ किसान नेताओं की पांचवें दौर की वार्ता जारी, सरकार के प्रस्‍तावों पर हो रही चर्चा चोरी के आरोप में मजदूर की बर्बरता से पिटाई, जानवरों से भी बदतर बर्ताव ब्रेक फेल होने पर हुआ दर्दनाक हादसा, ट्रकों में आग लगने से जिंदा जले ड्राइवर MP में इस साल नहीं खुलेंगे 1-8वीं तक के स्कूल, 10वीं-12वीं के छात्रों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर्नाटक: सरकार के विरोध में उतरे कन्‍नड़ समर्थक, आज बंद का आह्वान BJP National President JP Nadda का दून दौरा, लेंगे कार्यकर्ताओं के मन की थाह और प्रबुद्धजनों से फीडबैक IIT 2020 Global Summit : पीएम मोदी बोले- रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म के सिद्धांत के लिए प्रतिबद्ध है सरकार ब्राजील में पुल से नीचे गिरी बस, कम से कम 10 लोगों की मौत जमीनी विवाद मे सगे भतीजे ने घायल चाची पर चढ़ाई स्कॉर्पियो, मौत

जेल में बंद मरयम नवाज की बाथरूम में लगे थे कैमरे, इमरान सरकार पर बड़ा आरोप

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज ने इमरान सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। मुस्लिम लीग-नवाज की उपाध्यक्ष मरयम नवाज के अनुसार जेल की जिस सेल में उन्हें रखा गया था वहां खुफिया कैमरे लगाए गए थे। यहां तक कि उनके वॉशरूम में भी कैमरे लगाए गए थे। हाल ही में एक साक्षात्कार में, उन्होंने उन असुविधाओं के बारे में बात की, जो पिछले साल चौधरी शुगर मिल्स मामले में गिरफ्तार किए जाने के बाद उन्हें जेल में झेलनी पड़ी थीं।

मरयम ने इमरान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘मैं दो बार जेल जा चुकी हूं। अगर मैं हिरासत में रहने के दौरान अपने और अन्य महिला कैदियों के साथ होने वाले सुलूक के बारे में विस्तार से बताती हूं, तो उन्हें अपना चेहरा छुपाने के लिए जगह नहीं मिलेगी।’ उन्होंने कहा कि अगर अधिकारी एक कमरे में घुसकर उनके पिता नवाज शरीफ के सामने उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं और उन पर निजी हमले कर सकते हैं, तो पाकिस्तान में कोई महिला सुरक्षित नहीं है।

जियो न्यूज के अनुसार मरयम ने कहा कि उनकी पार्टी संविधान के दायरे में सेना के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है, बशर्ते कि सत्ता में मौजूद इमरान सरकार को हटाया जाए। उन्होंने आगे कहा कि वह सरकारी संस्थानों के खिलाफ नहीं हैं और इस बात पर जोर दिया कि बातचीत गुपचुप तरीके से नहीं होगी।

उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) के मंच के माध्यम से बातचीत हो सकती है। पीएमएल-एन नेता को पिछले साल मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने दावा किया था कि नेशनल एकाउंटेबिलिटी (NAB) ने कानून का उल्लंघन करके उन्हें गिरफ्तार किया है और उन्हें राजनीतिक रूप से प्रताड़ित किया जा है। पिछले साल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री के विशेष सहायक शहजाद अकबर ने कहा था कि शरीफ परिवार ने मनी-लॉन्ड्रिंग और शेयर्स के अवैध हस्तांतरण के लिए चौधरी चीनी मिलों का इस्तेमाल किया। मिल के शेयर्स के माध्यम से 2008 में मरयम नवाज को 7 मिलियन से अधिक शेयर ट्रांसफर किए गए थे, जिन्हें 2010 में यूसुफ अब्बास शरीफ को ट्रांसफर कर दिया गया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News