Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

नवगछिया के तिनटंगा करारी में गंगा नदी में नाव पलटी, एक की मौत, 50 लापता

भागलपुर। गंगा नदी की बिचली धार में गुरुवार सुबह को नाव पलटने से एक महिला की मौत हो गई, जबकि चार दर्जन से अधिक लोग लापता हैं। नवगछिया इलाके के गोपालपुर थाना क्षेत्र के तिनटंगा दियारा स्थित गुल्लर गाछ के समीप की यह घटना है। नाव पर 100 से अधिक लोगों के सवार होने की बात बताई जा रही है

जानकारी के अनुसार गंगा पार दियारा के खेत में मकई की बुआई के लिए लोग जा रहे थे। नाव पर महिलाओं-बच्चों समेत 100 से अधिक लोग सवार थे। इसपर साइकलें, बाइकें, मक्के के बीज, खाद आदि लादी गई थी। कुछ दूध बेचने वाले भी इसपर सवार थे। गुल्लर घाट से दर्शन मंडल की नाव खुली और कुछ दूर जाकर भंवर में डूब गई। लोगों ने नदी से सुलेमान देवी, चांदनी देवी, खैरा देवी, रानी देवी, शर्मिला देवी, प्रमिला, प्रेमलता देवी, मनीषा कुमारी व इंदिरा देवी आदि को पानी से निकाला। त्रिशुल यादव की पत्‍नी सुलेमान देवी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बाकी का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, गोपालपुर में किया जा रहा है। मौके पर जिलाधिकारी प्रणव कुमार समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे। राहत व बचाव कार्यों के लिए एनडीआरएफ की टीम को भी लगाया गया है। इस हादसे के बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।

तिनटंगा करारी से मकई की बुआई करने नाव से निकले थे लोग

तिनटंगा करारी गांव से गुरुवार की सुबह गंगा पार वाले दियारा स्थित अपने खेतों में मकई की बुआई के लिए नाव से लोग निकले थे। नाव से जाने वालों में महिलाएं भी शामिल थीं। नाव महतो बहियार घाट से रवाना हुई तब हालात सामान्य थे। तेज बहाव में भंवर में फंस जाने के कारण नाव पलट गई। दियारा जा रहे अन्य गांवों के लोग भी घाट पर मौजूद थे। जिनकी तत्परता से आधा दर्जन लोगों को डूबने से बचा लिया गया है। उन्हें उपचार के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नाव दुर्घटना में तेजस्‍वी यादव किया ट्वीट

नौका दुर्घटना पर पूर्व उपमुख्‍यमंत्री राजद नेता तेजस्‍वी यादव ने दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने ट्वीट कर एसडीआरएफ की टीम से बचाव कार्य में तेजी लाने का आग्रह किया है। मृतकों के प्रति संवेदना व्‍यक्‍त की।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News