Cover
ब्रेकिंग
शादी के बाद एक्स ब्वॉयफ्रेंड कुशाल टंडन से टकराईं गौहर ख़ान, दिया ये रिएक्शन राहुल के इटली ट्रिप पर भाजपा का निशाना, शिवराज बोले- स्‍थापना दिवस पर ‘9 2 11’ हो गए, कांग्रेस ने दी सफाई पीएम मोदी, भाजपा के अन्य शीर्ष नेताओं ने दी श्रद्धांजलि दर्ज हुए 20 हजार से अधिक संक्रमण के नए मामले, 279 मौत; जानें अब तक का पूरा आंकड़ा उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत Delhi AIIMS में कराएंगे उपचार, कोरोना से हैं संक्रमित देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो को पीएम ने दिखाई हरी झंडी, दिल्ली में रफ्तार भरने लगी ट्रेन किसान नेता राकेश टिकैत को फोन पर मिली जान से मारने की धमकी, जांच में जुटी पुलिस Year 2021- नया साल लेकर आ रहा ग्रहण के चार गजब नजारे, पूर्ण चंद्रग्रहण से होगी शुरुआत शीतकालीन सत्र पर बोले नरोत्तम, सरकार की कोशिश कि इसे न टाला जाए, कांग्रेस पर भी साधा निशाना MP के इस गांव में न सड़क है न कोई सुविधा, खाट पर रखकर ग्रामीण 3 KM ले गए शव

पीएम मोदी आज करेंगे स्वामित्व योजना की शुरुआत, 1 लाख लोगों को मिलेगा जमीन का मालिकाना हक

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ‘स्वामित्व’ के तहत आज गांवों में लोगों को जमीन के मालिकाना हक से संबंधित संपत्ति पत्र बांटे। इस योजना के शुरू होने के बाद करीब एक लाख संंपत्ति मालिक अपने संपत्ति पत्र उनके मोबाइल फोन पर आये लिंक के माध्यम से डाउनलोड कर सकेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कुछ लाभार्थिंयों के साथ संवाद भी किया।

इसके बाद विभिन्न राज्य सरकार लोगों को इन कार्ड के वितरण का काम शुरू करेंगी। इस दौरान छह राज्यों के 763 लाभार्थियों को संपत्ति पत्र दिये जायेंगे। इनमें उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के दो गांव हैं। महाराष्ट्र को छोड़कर अन्य राज्यों के लाभार्थियों को संपत्ति पत्र एक दिन में मिल जायेगा जबकि महाराष्ट्र में इसके लिए एक महीने का समय लगेगा।

इस कार्ड के माध्यम से गांव के लोग अब रिण लेने के साथ साथ अन्य वित्तीय लाभ भी ले सकेंगे। ‘स्वामित्व’ केन्द्रीय पंचायती राज मंत्रालय की योजना है जिसकी प्रधानमंत्री ने गत 24 अप्रैल को घोषणा की थी। योजना का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों में घरों के मालिकों को अधिकार संबंधी रिकॉर्ड से संबद्ध संपत्ति कार्ड उपलब्ध कराना है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News