Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप से गुरुवार को पूछताछ, अभिनेत्री पायल घोष से दुष्कर्म का आरोप

मुंबई ।  मुंबई पुलिस गुरुवार को फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप से पूछताछ करेगी। उनके विरुद्ध अभिनेत्री पायल घोष ने 22 सितंबर को दुष्कर्म के आरोप में आपराधिक मामला दर्ज कराया था। पायल मंगलवार को आरपीआइ नेता और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले के साथ महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से भी मिली थीं। जानकारी के मुताबिक अनुराग कश्यप गुरुवार सुबह 11 बजे मुंबई के वर्सोवा पुलिस थाने में पूछताछ के लिए जाएंगे। वर्सोवा पुलिस थाने में अनुराग के विरुद्ध दुष्कर्म, जबरन छेड़छाड़ और जबरन बंधक बनाने जैसे आरोपों में आइपीसी (भारतीय दंड संहिता) की धारा 376(1), 354, 341 और 342 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पायल ने अपनी एफआइआर में कहा है कि अनुराग कश्यप ने मुंबई के यारी रोड इलाके में उन्हें काम के सिलसिले में बातचीत करने के लिए बुलाया और उनके साथ दुष्कर्म किया। उन्होंने अपने आरोपों के पक्ष में कुछ इलेक्ट्रॉनिक सुबूत भी पुलिस को दिए हैं। एफआइआर दर्ज होने के बावजूद कार्रवाई में देरी होने पर पायल घोष ने धरने पर बैठने की धमकी दी थी। मंगलवार को जब वह आठवले के साथ राज्यपाल कोश्यारी से मिलने गई थीं तो इस दौरान आठवले ने भी चेतावनी दी थी कि यदि कश्यप को एक सप्ताह में गिरफ्तार नहीं किया गया तो पायल के साथ वह भी धरने पर बैठेंगे।

उधर, अनुराग कश्यप इस मामले में खुद पर लगे आरोपों को अपने वकील के जरिये झूठा बता चुके हैं। उनकी वकील प्रियंका खिमानी ने कहा था कि उनके मुवक्किल अनुराग कश्यप खुद पर लगाए जा रहे आरोपों से काफी आहत हैं। ये आरोप पूरी तरह गलत और झूठे हैं। यह खेदजनक है कि “मी टू” जैसा एक अभियान अब सिर्फ झूठे आरोप और चरित्र हनन का हथियार बनकर रह गया है। इससे “मी टू” के वास्तविक पीड़ितों को नुकसान ही पहुंचेगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News