Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

कोरोना महामारी के कारण सऊदी अरब वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करेगा G-20 सम्मेलन का आयोजन

दुबई। सऊदी अरब ने घोषणा की है कि कोरोना महामारी के कारण नवंबर में जी-20 सम्मेलन (G-20 Summit) का आयोजन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए किया जाएगा। सोमवार को सऊदी की तरफ से इसका एलान किया गया है। बता दें कि इस बार सऊदी अरब जी-20 सम्मेलन की अध्यक्षता करेगा, जिसमें 20 देशों के नेता शामिल होंगे।

सऊदी ने कोरोना महामारी की शुरूआत से पहले जी-20 सम्मेलन के रियाद में आयोजित करने की योजना बनाई थी। सऊदी के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Saudi Crown Prince Mohammed bin Salman) दुनियाभर के 20 देशों के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्रियों को संबोधित करेंगे, जिनमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग शामिल होंगे। पिछले साल 2019 में जी- 20 सम्मेलन का चौदहवां संस्करण जापान के ओसाका में आयोजित किया गया था। 28 जून से 29 जून 2019 तक ओसाका में अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र में इसका आयोजन हुआ था। बता दें कि यह जापान में आयोजित होने वाला पहला G-20 शिखर सम्मेलन था

क्या है G-20 सम्मेलन

G-20 सम्मेलन वित्तीय बाजारों और विश्व अर्थव्यवस्था के सम्मेलन के रूप में जाना जाता हैं। इसमें शामिल 20 देश दुनिया की कुल जीडीपी के 80 फीसद से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं। पिछले सालों में जी 20 देशों ने वैश्विक आर्थिक विकास को लेकर खूब काम किया है। हाल में हुए जी 20 सम्मेलनों में आर्थिक और व्यापारिक मुद्दों के अलावा वैश्विक मुद्दों पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है। जलवायु परिवर्तन, स्वास्थ्य, आतंकवाद, जल संकट जैसे मुद्दों को सम्मेलनों में प्रमुख्ता से उठाया गया है।

G-20 में ये देश हैं शामिल

अर्जेंटीना, चीन, जर्मनी, इंडोनेशिया, जापान, ब्राजील, कनाडा, फ्रांस, भारत, इटली, ऑस्ट्रेलिया, मैक्सिको, कोरिया गणराज्य, तुर्की, अमेरिका, साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, सऊदी अरब, ब्रिटेन, यूरोपियन यूनियन शामिल है। जी-20 में दुनिया का 80 फीसद व्यापार, दो-तिहाई जनसंख्या और दुनिया का करीब आधा हिस्सा शामिल है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News