Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

‘भारत बंद’ को लेकर सरकार अलर्ट, जारी की देशव्यापी एडवाइजरी, राज्यों को सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश

नई दिल्‍ली। किसान संगठनों की ओर से बुलाए गए ‘भारत बंद’ के दौरान शांति बनी रहे और किसी तरह की हिंसा या उपद्रव नहीं हो इसे लेकर केंद्र सरकार बेहद सतर्क है। सरकार ने ‘भारत बंद’ के मद्देनजर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी जारी की है। अधिकारियों ने बताया कि सरकार ने अपने दिशा-निर्देश में कहा है कि मंगलवार को ‘भारत बंद’ के दौरान सुरक्षा कड़ी करते हुए सभी जगह शांति सुनिश्चित की जाए।

केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी देशव्यापी दिशा-निर्देश में कहा गया कि राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासकों को सुनिश्चित करना चाहिए कि कोरोना से बचाव को लेकर जो गाइडलाइन पहले जारी की गई है उसका पालन किया जाए। साथ ही प्रदर्शनों के दौरान शारीरिक दूरी बरकरार रखी जाए। राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को ‘भारत बंद’ के मद्देनजर शांति बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि राज्‍यों से कहा गया है कि ‘भारत बंद’ के दौरान शांति भंग नहीं हो इसको लेकर पहले से ही एहतियाती कदम उठाए जाएं। साथ ही कड़ी चौकसी रखी जाए ताकि कहीं भी कोई अप्रिय घटना नहीं हो। मालूम हो कि मंगलवार को किसान संगठनों ने ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है। किसान संसद के मॉनसून सत्र में लाए गए तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

गौरतलब है कि किसानों की ओर से बुलाए गए ‘भारत बंद’ का कांग्रेस, राकांपा, द्रमुक, सपा, टीआरएस और वामपंथी दलों जैसी बड़ी पार्टियों ने समर्थन किया है। हजारों की संख्‍या में किसान दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार किसान नेताओं के साथ पांच दौर की बातचीत कर चुकी है लेकिन आंदोलन खत्‍म नहीं हो पाया है। किसान संगठनों के नेता तीनों कृषि कानून को रद करने मांग पर अड़े हुए हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News