Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

जमशेदपुर डीएसपी पर यौन शोषण का आरोप, राज्यपाल-सीएम व डीजीपी से शिकायत

रांची। झारखंड के एक डीएसपी पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं। इसे लेकर राज्‍य की राज्यपाल, मुख्यमंत्री और राज्य के डीजीपी से शिकायत की गई है। शिकायत हजारीबाग की रहने वाली एक युवती ने की है। इसमें कहा गया है कि जमशेदपुर में पोस्टेड डीएसपी अरविंद कुमार ने पीड़िता को शादी का झांसा देकर यौन शोषण किया है। इस मामले की शिकायत सीएम सहित कई अन्य सक्षम अधिकारियों से की जा चुकी है। मामले में अभी कार्यवाही पूरी हुई नहीं है। इससे पहले ही डीएसपी ने दूसरी शादी रचा ली है।

हालांकि डीएसपी अरविंद कुमार पूरे आरोप को सिरे से खारिज कर रहे हैं। उनका कहना है कि युवती अनर्गल आरोप लगाकर ब्लैकमेल कर रही है। उन पर लगाए गए सारे आरोप बेबुनियाद हैं। पीड़िता ने बताया है कि उसका संपर्क डीएसपी से एक सहेली के माध्यम से हुआ है। वह सहेली डीएसपी की भाभी की बहन है। उसी के द्वारा पीड़िता का परिचय वर्ष 2016 में डीएसपी से हुआ था। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल नंबर का आदान-प्रदान हुआ।

काफी समय तक दोनों की बात हुई। इसी से दोनों की दोस्ती बढ़ती गई। कई बार अलग-अलग पार्क और मंदिरों में दोनों का साथ घूमना-फिरना भी हुआ। पीड़िता संत कोलंबस कॉलेज हजारीबाग में बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। पढ़ाई के लिए हजारीबाग में किराये के मकान में रहती थी। डीएसपी अरविंद हमेशा उससे मुलाकात करने के लिए उसके पास किराये के मकान में आया-जाया करते थे। उन्‍होंने उसके कमरे में आकर वर्ष 2016 से 2017 के दौरान शारीरिक संबंध बनाया। उसी दौरान पीड़िता ने डीएसपी अरविंद से शादी करने के लिए कहा तो उन्होंने साफ इंकार कर दिया। डीएसपी अरविंद ने बताया कि उसकी शादी कहीं और तय हो गई है। लड़की वाले 25 लाख रुपये और चार पहिया गाड़ी उन्हें दे रहे हैं।

अरविंद ने पीड़िता को धमकाया भी

पीड़िता का आरोप है कि डीएसपी ने उसे धमकाया भी है। डीएसपी अरविंद की बातें सुनकर पीड़िता डिप्रेशन में आ गई। इसके बाद उसके घर वाले उसे वापस रांची लेकर आ गए। वहां उसे सदर अस्पताल में भर्ती कर 15 दिन रखा गया। इस दौरान डीएसपी अरविंद उससे मुलाकात करने के लिए रांची आए और सांत्वना दिया। उन्होंने कहा कि वह जल्द उससे शादी करेंगे। इसके बाद पीड़िता के माता-पिता ने अरविंद के पिता से संपर्क किया और घटना के बारे में अवगत कराया।

इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच हजारीबाग स्थित मंदिर में कई बार बैठक भी हुई। अरविंद के पिता ने कहा था कि जितना पैसा पहले लड़की वाले दे रहे हैं, उतना पैसा अगर पीड़िता के परिवार वाले देंगे तो वह शादी करने के लिए तैयार हैं। इस पर पीड़िता के परिवार ने डीएसपी के पिता को समझाया कि उनके पास इतने पैसे नहीं हैं और हैसियत के हिसाब से 9.51 लाख देने के लिए तैयार हुए। पीड़िता के अनुसार यह रकम डीएसपी के परिवार ने ले भी लिया लेकिन बाद में शादी से इन्‍कार कर गए।

‘डीएसपी बनने के बाद मुझे ब्लैकमेल करने के लिए युवती अनर्गल आरोप लगा रही है। युवती द्वारा लगाए गए आरोपों की पुलिस मुख्यालय से लेकर कई आला अधिकारियों ने जांच की है। इसमें सारे आरोप झूठे पाए गए हैं। मुझे बेवजह परेशान करने के लिए युवती गलत आरोप लगा रही है। मुझ पर लगाए गए कोई भी आरोप सच नहीं हैं।‘ -अरविंद कुमार, डीएसपी जमशेदपुर।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News