Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

कोरोना वैक्‍सीन के लि‍ए पीएम मोदी सीरम इंस्‍टीट्यूट पहुंचे, ली जानकारी

नई दिल्ली। कोरोना महामारी संकट के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में कोरोना वैक्सीन की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। इसके तहत पीएम मोदी पुणे पहुंचे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी यहां सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया। यहां उन्‍होंने वैक्‍सीन के निर्माण की तैयारियों की जानकारी ली। वहीं, इसके पहले भारत बायोटेक को कोरोना सेंटर पहुंचे थे। पीएम मोदी ने यहां भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सिन की तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने वैज्ञानिकों से वैक्सीन को लेकर बात की। भारत बायोटेक कोरोना सेंटर में भारत बायोटेक और आइसीएमआर द्वारा तैयार स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवैक्सिन का ट्रायल चल रहा है। बता दें कि भारत बॉयोटेक और आईसीएमआर द्वारा विकसित वैक्सीन कोवैक्सीन(Covaxine) का ट्रायल फिलहाल तीसरे और आखिरी चरण में है।

पीएम मोदी ने किया ट्वी

पीएम मोदी ने हैदराबाद में भारत बायोटेक के कोरोना वैक्सीन सेंटर की यात्रा को लेकर एक ट्वीट किया। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा- हैदराबाद में भारत बायोटेक सुविधा में, उनके स्वदेशी COVID-19 वैक्सीन के बारे में जानकारी दी गई। अब तक के परीक्षणों में वैज्ञानिकों को उनकी प्रगति के लिए बधाई दी। उनकी टीम शीघ्र प्रगति के लिए ICMR के साथ मिलकर काम कर रही है।

भारत बायोटेक वैक्सीन सेंटर की यात्रा के बाद पीएम मोदी पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) जाएंगे। सीरम इंस्टीट्यूट ने वैक्सीन के लिए वैश्विक फार्मा दिग्गज AstraZeneca और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ साझेदारी की है। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी सबसे पहले आज अहमदाबाद पहुंचे। यहां वह जायडस बायोटेक पार्क पहुंचे, जहां उन्होंने जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन जाइकोव-डी की तैयारियों का जायजा लिया।

अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क के दौरे में क्या रहा खास ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को COVID-19 वैक्सीन उम्मीदवार ZYCOV-D के विकास की समीक्षा करने के बाद अहमदाबाद के Zydus Biotech Park की यात्रा का समापन किया। पीएम मोदी की यह यात्रा देश में वैक्सीन विकास और विनिर्माण प्रक्रिया की व्यक्तिगत रूप से समीक्षा करने के लिए उनके तीन-शहर के दौरे में पहली थी।

अहमदाबाद में जायडस बायोटेक पार्क का दौरा करने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर दौरे से जुड़ी जानकारी साझा की। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा- अहमदाबाद में ज़ायडस बायोटेक पार्क का दौरा किया, ज़ायडस कैडिला द्वारा विकसित किए जा रहे स्वदेशी डीएनए आधारित वैक्सीन के बारे में अधिक जानकारी के लिए। मैं उनके काम के लिए इस प्रयास के पीछे टीम की सराहना करता हूं। भारत सरकार इस यात्रा में उनका समर्थन करने के लिए सक्रिय रूप से उनके साथ काम कर रही है

अहमदाबाद में बायोटेक पार्क की अपनी यात्रा के दौरान, पीएम मोदी ने बायोटेक पार्क में वैज्ञानिकों के साथ बातचीत की और संयंत्र के बाहर एकत्रित भीड़ का भी अभिवादन किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद में अपनी वैक्सीन यात्रा के दौरान जाइडस बायोटेक पार्क के बाहर एकत्रित भीड़ का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। इस दौरान सड़कों पर भारी भीड़ नजर आई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जायडस बायोटेक पार्क में उस लैब में पहुंचे, जहां कोरोना की वैक्सीन विकसित की जा रही है।यहां उन्होंने वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं से बातचीत की है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अहमदाबाद पहुंचे और यहां से वह सीधे Zydus बायोटेक पार्क पहुंचे।

कहां तक पहुंची कोरोना वैक्सीन ?

देश में फिलहाल तीन वैक्सीन पर काम चल रहा है। इनमें ऑक्सफोर्ड वैक्सीन, भारत बायोटेक की वैक्सीन और जायडस कैडिला की वैक्सीन शामिल है। यह तीनों वैक्सीन ट्रायल के अलग-अलग चरण में हैं। देश में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया(SII) की ऑक्सफोर्ड वैक्सीन, कोविशील्ड(Covishield) रेस में सबसे आगे है। सीरम इंस्टीट्यूट की योजना ये है कि ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड वैक्‍सीन को आपातकालीन मंजूरी मिलते ही भारत में वह इसके इमरजेंसी अप्रूवल के लिए अप्लाई कर देगी। दूसरी वैक्सीन जायडस कैडिला की जायकोव-डी(ZyCov-D) है। यह वैक्सीन अपने दूसरे चरण के ट्रायल में है। भारत बॉयोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन का ट्रायल फिलहाल तीसरे और आखिरी चरण में है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News