Cover
ब्रेकिंग
4 दिसंबर को दक्षिण तमिलनाडु से टकराएगा चक्रवात बुरेवी, IMD ने जारी किया भारी बारिश का अलर्ट सिंघु बॉर्डर पर किसानों ने लगाए टेंट, बैरिकेड के पास शुरू किया खाना बनाना; दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर भी प्रदर्शन शुरू सर्द हवाओं से लौटी ठंड, तीन दिन बाद बढ़ेगा रात का तापमान, जानिए और क्या कहता है मौसम विभाग यूपी के प्राइवेट अस्पतालों तथा लैब में अब बेहद सस्‍ते में होगा Covid 19 Test, तीन गुना दाम घटाए कोविड-19 पर चर्चा के लिए चार दिसंबर को सर्वदलीय बैठक, तृणमूल कांग्रेस भी होगी शामिल किसान आंदोलन: कनाडा के PM ट्रूडो को भारत का जवाब- हमारे मामलों में दखल देने की ना करो कोशिश किसान आंदोलन में शामिल होने सिंघु बॉर्डर पहुंची शाहीन बाग की दादी बिल्किस बानो गिरफ्तार जम्मू-कश्मीरः डीडीसी चुनाव के दूसरे चरण में हुआ 48 फीसदी से अधिक मतदान गुजरातः भाजपा राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज का निधन, पीएम मोदी ने जताया दुख NRI को बड़ा तोहफा देने की तैयारी में मोदी सरकार, चुनाव में सीधे कर सकेंगे वोट

लंदन से 42 साल बाद लौटीं भगवान राम, लक्ष्मण व माता जानकी की मूर्तियां

नई दिल्ली। भगवान श्रीराम, माता सीता और लक्ष्मण की मूर्तियां 42 साल बाद लंदन से भारत लौटी हैं। असल में इन्हें ठीक 42 साल पहले 24 नवंबर, 1978 को तमिलनाडु के श्रीराजगोपाल मंदिर से चुरा लिया गया था और लंदन में बेचा गया था। जब भारत सरकार को इसकी जानकारी मिली तो लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग ने मामले में दखल दिया और इस वर्ष 15 सितंबर मूर्तियां उन्हें मिल गई। भारत सरकार के निर्देश पर इन्हें लंदन से दिल्ली लाया गया है। कांसे की बनी तीनों मूर्तियां इस समय भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के पास हैं, जिन्हें बुधवार को तमिलनाडु प्रशासन को सौंपा जाएगा। भगवान की मूर्तियों को सौंपने के लिए केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल खुद एएसआइ मुख्यालय पहुंचेंगे। इन मूर्तियों में भगवान राम की मूर्ति की लंबाई 90.5 सेंटीमीटर है। माता सीता की मूर्ति 74.5 सेंटीमीटर और लक्ष्मण की मूर्ति 78 सेंटीमीटर की है।

केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार आने के बाद बड़े स्तर पर विदेश से धरोहरें लौटी हैं। 2015 में मोदी सरकार बनने के बाद से पिछले पांच साल में 32 मूर्तियां विदेश से वापस आई हैं। इसमें कुछ देशों ने वहां भारतीय दूतावास के अधिकारियों को बुलाकर मूर्तियां सौंपी हैं जो मूर्तियां वापस आई हैं उनमें मध्य प्रदेश से चोरी हुई पैरेट लेडी, जम्मू-कश्मीर से दुर्गा महिषासुरमर्दिनी, तमिलनाडु से चोरी हुई उमा परमेश्वरी, तमिलनाडु से चोरी हुई गणेश की प्रतिमा, श्री देवी, पार्वती, भूदेवी आदि की मूर्तियां भी शामिल हैं।

वापस आई मूर्तियां-

  • संयुक्त राज्य अमेरिका-21
  • ऑस्ट्रेलिया-6
  • कनाडा-1
  • जर्मनी-1
  • सिंगापुर-1
  • यूके- 2

इन राज्यों से चोरी हुई थीं मूर्तियां

  • तमिलनाडु-10
  • बंगाल-1
  • आंध्र प्रदेश-4
  • मध्य प्रदेश-1
  • राजस्थान-2
  • बिहार-1
  • उत्तराखंड-1
  • जम्मू कश्मीर-2
  • उत्तर प्रदेश-1
  • गुजरात-1

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News