Cover
ब्रेकिंग
दिल्ली सीमा पर डटे किसानों को हटाने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, CJI बोले- बात करके पूरा हो सकता है मकसद UP के अगले विधानसभा चुनाव में ओवैसी-केजरीवाल बिगाड़ सकते हैं विपक्ष का गणित सावधान! CM योगी का बदला मिजाज, अब कार से करेंगे किसी भी जिले का औचक निरीक्षण संसद का शीतकालीन सत्र नहीं चलाने पर भड़की प्रियंका गांधी पाक सेना ने राजौरी मे अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी की संत बाबा राम सिंह की मौत पर कमलनाथ बोले- पता नहीं मोदी सरकार नींद से कब जागेगी गृह मंत्री के विरोध में उतरे पूर्व सांसद कंकर मुंजारे गिरफ्तार, फर्जी नक्सली मुठभेड़ को लेकर तनाव मोबाइल लूटने आए बदमाश को मेडिकल की छात्रा ने बड़ी बहादुरी से पकड़ा कांग्रेस बोलीं- जुबान पर आ ही गया सच, कमलनाथ सरकार गिराने में देश के PM का ही हाथ EC का कमलनाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश, चुनाव में पैसे के गलत इस्तेमाल का आरोप

SGB: इस धनतेरस खरीदें सरकारी गोल्ड बॉन्ड, ये हैं 10 बड़े फायदे

नई दिल्ली। इस दिवाली सोना खरीदने वाले लोगों के लिए अच्छा मौका है। वे सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड खरीद सकते हैं। SGB सोने में निवेश का एक काफी बेहतर माध्यम है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 की आठवीं सीरीज शुरू हो गई है। इस सीरीज के तहत सब्सक्रिप्शन 9 नवंबर को शुरू हुए थे और 13 नवंबर को बंद होंगे। इस सीरीज में एक ग्राम सोने की कीमत 5,177 रुपये तय की गई है। साथ ही ऑनलाइन सब्सक्रिप्शन पर 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट का भी प्रावधान है।

जिन निवेशकों ने नवंबर 2015 में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के पहले इश्यू में निवेश किया था, वे पिछले पांच वर्षों में करीब 93 फीसद की ग्रोथ पा चुके है। ये बॉन्ड आठ साल में मैच्योर होते हैं, लेकिन निवेशक के पास पांच साल बाद बाहर निकलने का विकल्प होता है। आज हम आपको सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश के फायदे बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं।

1. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड का एक खास फायदा यह है कि यह प्रारंभिक निवेश की राशि पर सालाना 2.50 फीसद की एक निश्चित ब्याज दर के साथ आता है। ब्याज निवेशक के बैंक खाते में छमाही आधार पर जमा होता है।

2. आप सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को बैंक (स्मॉल फाइनेंस बैंक एवं पेमेंट बैंक को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, निर्धारित पोस्ट ऑफिस एवं मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंज से खरीद सकते हैं।

3. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की कीमत 999 शुद्धता वाले सोने की कीमत से लिंक्ड होती है।

4. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करके आप इसे लॉकर में रखने के खर्च और चोरी होने के जोखिम से बच सकते हैं।

5. यहां निवेशक मैच्योरिटी के समय की सोने की बाजार कीमत मिलने और आवधिक ब्याज के बारे में आश्वस्त होते हैं।

6. एसजीबी में निवेश से आप जुलरी के रूप में सोने की खरीदारी के साथ मेकिंग चार्जेज और शुद्धता जैसे मुद्दों से मुक्त होते हैं।

7. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स एक्सचेंजों पर ट्रेडेबल होते हैं।

8. एसजीबी पर ब्याज करयोग्य होता है, लेकिन बॉन्ड्स के रिडंप्शन के समय पूंजीगत लाभ पर टैक्स में इंडिविजुअल्स के लिए छूट होती है।

9. एसजीबी का उपयोग लोन्स के लिए संपार्श्विक के रूप में किया जा सकता है।

10. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स भारत सरकार की ओर से भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी किये जाते हैं। इसलिए इनकी सॉवरेन गारंटी होती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

AIB News